नई दिल्ली
दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मकोका में आरोपी और एक लाख के इनामी कुख्यात गैंगस्टर ज्योति प्रकाश उर्फ बाबा को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। दिल्ली-हरियाणा के मोस्ट वॉन्टेड इस अपराधी को पुलिस ने गुजरात के सूरत से दबोचा है। वह अपने विरोधी गैंगस्टर मंजीत महाल को मारने की प्लानिंग कर रहा था। नजफगढ़ निवासी गैंगस्टर ज्योति पर दिल्ली और हरियाणा में हत्या और लूट जैसे करीब एक दर्जन मामले दर्ज हैं। दिल्ली के उसके ठिकाने से पुलिस ने एक यूएस आर्मी निर्मित ऑटोमैटिक पिस्टल बरामद की है। डीसीपी मनीष चंद्र ने बताया कि 31 वर्षीय गैंगस्टर ज्योति उर्फ बाबा को पिछले साल अगस्त महीने में हरियाणा की अदालत से पैरोल मिली थी, लेकिन वह फरार हो गया था। पिछले साल गैंग के सदस्य अमित गुलिया और अन्य की गिरफ्तारी के बाद वह नेपाल चला गया था। वहां वह छह महीने रहा। उसके बाद भारत लौटा था और यहां वह सूरत में जाकर रहने लगा। डीसीपी ने बताया कि इस बीच पुलिस से बचने के लिए वह राजकोट, अहमदाबाद और सूरत में लगातार अपने ठिकाने बदलता रहा। इस दौरान वह अपने विरोधी गैंगस्टर मंजीत महाल को मारने की प्लानिंग में जुटा था।