भोपाल
शिवराज सिंह चौहान की सरकार के 100 दिन पूरे होने पर भाजपा 3 जुलाई को बड़ी रैली की तैयारी में जुटी है। कोरोना संकटकाल में होने वाली यह रैली किसी मैदान पर नहीं बल्कि सोशल मीडिया के जरिये नए फार्मेट में शुरू की गई वर्चुअल रैली होगी। इस रैली की तैयारियों में संगठन के पदाधिकारियों की टीमें जुट गई हैं। सीएम शिवराज इस दिन कुछ नई घोषणाएं भी कर सकते हैं।
20 मार्च को मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा इस्तीफा दिए जाने के बाद 23 मार्च को भाजपा की सरकार बनी थी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अकेले ही शपथ ली थी। इसके एक माह बाद मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, तुलसी सिलावट, गोविन्द सिंह राजपूत, कमल पटेल और मीना सिंह ने शिवराज कैबिनेट में शपथ ली थी। कोरोना संक्रमण के बुरे दौर में प्रदेश की जनता को कोरोना उपचार व्यवस्था और लॉकडाउन के दौरान ठप पड़ी अर्थव्यवस्था से उबारने के साथ लोगों की जिस तरह से आर्थिक मदद शिवराज सरकार ने की है, उसे भाजपा जनता को फिर बताएगी। सीएम चौहान इस दौरान 37 हजार करोड़ रुपए की अलग-अलग योजनाओं में हितग्राहियों में डाली गई राशि के बारे में जानकारी देंगे। साथ ही वे कुछ नई घोषणाएं भी कर सकते हैं।
उपचुनाव वाले क्षेत्रों पर विशेष फोकस
सीएम शिवराज की 3 जुलाई को प्रस्तावित वर्चुअल रैली में केंद्र के भी कुछ नेताओं को शामिल किया जाएगा। इसके लिए सीएम चौहान आज दिल्ली प्रवास के दौरान केंद्रीय नेतृत्व के वरिष्ठ नेताओं से मिलकर अनुरोध करने वाले हैं। खास बात यह है कि 24 विधानसभा में होने वाले उपचुनाव को ध्यान में रखकर शिवराज सरकार कुछ ऐसी घोषणाएं कर सकती है जिसका फायदा प्रदेश के साथ इन विधानसभा क्षेत्रों के लोगों को अधिक से अधिक मिले और जनता में सकारात्मक मैसेज जाए।