रायपुर
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 3 मार्च को राज्य का सालाना बजट विधानसभा में पेश करेंगे। बजट के एक लाख करोड़ के होने का अनुमान है। बताया गया कि विधानसभा में सदन की कार्रवाई को लेकर कार्यमंत्रणा समिति की बैठक हुई। बैठक में बजट पेश करने की तिथि भी निर्धारित की गई। इस बार 3 मार्च को बजट पेश करने की तिथि निर्धारित की गई है। मुख्यमंत्री श्री बघेल वित्त विभाग के प्रमुख होने के नाते अपना और सरकार का दूसरा बजट पेश करेंगे। बजट के एक लाख करोड़ से अधिक के होने का अनुमान है।

बताया गया कि बजट में इस बार सिंचाई परियोजनाओं पर विशेष जोर दिया जाएगा। सबसे ज्यादा राशि कृषि और सिंचाई परियोजनाओं के मद में प्रावधानित हो सकती है। वजह यह है कि सरकार ने अगले 5 साल में सिंचाई रकबे को बढ़ाकर 13 हजार से 26 हजार हेक्टेयर करने रणनीति बनाई है। इसके हिसाब से नई योजनाओं को शामिल किया जा सकता है।

बजट में किसानों को अंतर राशि देने के लिए प्रावधान भी किया जा सकता है। करीब 653 रूपए की अंतर राशि किसान न्याय योजना के जरिए दी जाएगी। इसके लिए भी बजट में प्रावधान किया जाएगा।