नई दिल्ली

दिल्ली के जाफराबाद में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ धरने पर बैठे लोग हिंसक हो गए। पुलिस पर पथराव के बाद प्रदर्शनकारियों ने जाफराबाद में दस गाड़ियों में भी आग लगा दी। इस हिंसक प्रदर्शन में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई। बताया जा रहा है चांद बाग में भी प्रदर्शनकारियों ने कुछ वाहनों में आग लगाई है। सुबह दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट कमिश्रर ने खुद कमान संभालते हुए प्रदर्शनकारियों को समझाने की कोशिश की थी लेकिन जब वो नहीं माने तो पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैसे के गोले छोड़े गए। सोमवार सुबह से ही जाफराबाद में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। वहीं मौजपुर में बाजार बंद है लेकिन कुछ दुकानें खुली थी। 

 

जाफराबाद हिंसा

- सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने दिल्ली के जाफराबाद में 10 से ज्यादा गाड़ियों में लगाई आग। एक पुलिसकर्मी की मौत।

 सीएए के समर्थन और विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों के बीच अब रुक रुक कर हो रही है पत्थरबाजी

- प्रदर्शनकारियों के पथराव के चलते आसपास के मकानों के टूटे कांच

-  प्रदर्शनकारियों के पथराव में घायल हुआ एक पुलिसकर्मी