इंदौर
इंदौर से मुंबई तक ट्रैफिक संभालने वाली वयोवृद्ध ट्रैफिक वार्डन निर्मला पाठक (94) का शनिवार काे निधन हाे गया। शहर के चौराहाें पर खाकी वर्दी पहनकर अपनी सीटी से लंबे समय तक ट्रैफिक कंट्राेल करने वालीं पाठक कुछ साल पहले बाथरूम में फिसलकर ऐसे गिरीं की फिर खड़ी नहीं हो पाईं। साइकिल पर सवार होकर ट्रैफिक संभालते देख पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने साइकिलवाली बाई नाम दिया था। वहीं, अभिनेता शाहरुख खान ने उन्हें अपने एक शो में बुलाकर इंदौर की दादी के खिताब से नवाजा था।

बाथरूम में फिसलने से कमर में आई थी गंभीर चोट
मिली जानकारी अनुसार पाठक ने शनिवार सुबह अपने लवकुश आवास विहार स्थित निवास पर अंतिम सांस ली। बिस्तर पर पड़ने के बाद पाठक की सबसे छोेटी बहन ने उनकी काफी देखभाल की। बहन उषा ने बताया था कि यातायात को लेकर उन्हें कई बार पुरस्कृत किया गया। एक दिन ट्रैफिक संभालते हुए वे बेहोश होकर बाजार में गिर पड़ीं। लोगों ने उन्हें घर छोड़ा। नवंबर 2018 में बाथरूम में फिसलकर गिर गईं। बेटे ने काफी देर तक दरवाजा खटखटाया, जब नहीं खोला तो गेट तोड़ना पड़ा। वे भीतर ही बेहोश पड़ी थीं। इसके बाद उन्हें अस्पताल लेकर जाया गया। लेकिन वे फिर बिस्तर से उठ नहीं पाईं। उन्हें एक हाथ और पैर में पैरालाइज्ड हो गया।