बेंगलुरु
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का रेकॉर्ड तोड़ दिया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में वह वनडे इंटरनैशनल में सबसे तेजी से 5000 रन पूरे करने वाले कप्तान बन गए। रविवार को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में उन्होंने यह मुकाम हासिल किया। उन्होंने मिशेल स्टार्क की गेंद पर चौका लगाकर यह उपलब्धि हासिल की।

कोहली को इस मैच से पहले धोनी का रेकॉर्ड तोड़ने के लिए सिर्फ 17 रनों की जरूरत थी। इसके साथ ही वह एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे तेजी से 5000 रन बनाने वाले कप्तान बन गए। धोनी ने 127 पारियों में 5000 रन बनाए थे। वहीं कोहली अपनी 82वीं पारी में यहां पहुंच गए। ऑस्ट्रेलिया के रिकी पॉन्टिंग 131 पारियों में यहां पहुंचे थे।

बतौर कप्तान सबसे तेज 5000 ODI रन

  • बल्लेबाज    पारियां
  • विराट कोहली    82*
  • महेंद्र सिंह धोनी    127
  • रिकी पॉन्टिंग    131
  • ग्रीम स्मिथ    135
  • सौरभ गांगुली    136
  • मोहम्मद अजहरुद्दीन     151
  • अर्जुन रणतुंगा     157
  • स्टीफन फ्लेमिंग    201

इसके साथ ही कोहली कप्तान के रूप में ODI में 5000 रन बनाने वाले चौथे भारतीय कप्तान बन गए। उनसे पहले महेंद्र सिंह धोनी (6641), मोहम्मद अजहरुद्दीन (5239) और सौरभ गांगुली (5104) उनसे आगे हैं। कुल मिलाकर वह ऐसा करने वाले 8वें कप्तान हैं। पॉन्टिंग 8497 रन के साथ इस लिस्ट में टॉप पर हैं। वहीं न्यू जीलैंड के स्टीफन फ्लेमिंग (6295), श्रीलंका के अर्जुन रणतुंगा 95608) और साउथ अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ (5416) इस सूची में शामिल हैं।

कोहली ने इस सीरीज के पहले मैच में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की थी। मुंबई के वानखेड़े मैदान पर उन्होंने 16 रन बनाए थे। वहीं राजकोट में हुए सीरीज के दूसरे मैदान में वह तीसरे नंबर पर आए थे और वहां उन्होंने 78 रनों की पारी खेली थी।

बेंगलुरु का मैदान कोहली के लिए वनडे इंटरनैशनल में लकी नहीं रहा है। इस मैदान पर कोहली ने पांच पारियों में 63 रन बनाए थे। उनका बल्लेबाजी औसत मैदान पर 12.60 का रहा था।