पेइचिंग
चीन के वुहान और शेनजेन शहर में धीरे-धीरे खतरनाक अज्ञात वायरस फैलता जा रहा है और वहां एक भारतीय टीचर भी इसकी चपेट में आ गई हैं। भारतीय टीचर पहली विदेशी नागरिक हैं जो सिवियर एक्युट रेस्पायरेटरी सिंड्रॉम (SARS) जैसे वायरस की चपेट में आ गई हैं।

शेंजेनव के इंटरनैशनल स्कूल में टीचर प्रीति माहेश्वरी को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वह शुक्रवार को गंभीर रूप से बीमार हो गई थीं। प्रीति के पति आयुष्मान कोवाल ने बताया कि डॉक्टरों ने इस बात की पुष्टि की वह वायरस की चपेट में हैं।

इस अज्ञात वायरस ने चिंता तब बढ़ा दी जब इसका संबंध SARS से बताया जा रहा है जिससे 2002-2003 में चीन और हॉन्ग कॉन्ग में करीब 650 लोगों की मौत हो गई है।