नई दिल्ली
भारत के दिग्गज टेनिस खिलाड़ी महेश भूपति ने अपनी पूर्व साथी सानिया मिर्जा की तारीफ करते हुए कहा है कि कोर्ट पर उनकी विजयी वापसी अविश्वसनीय है। सानिया ने अपनी साथी यूक्रेन की नादिया किचेनोक के साथ शनिवार को होबार्ट इंटरनेशनल के महिला युगल वर्ग का खिताब अपने नाम किया।

बेटे को जन्म देने के बाद से सानिया कोर्ट पर नहीं उतरी थीं लेकिन उन्होंने वापसी की और खिताब अपने नाम किया। भूपति ने आईएएनएस से कहा, “उनके लिए यह अविश्वसनीय वापसी है। मैच फिट होने के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की है और उनकी मेहनत ने जल्द ही परिणाम दिए इस बात से मैं काफी खुश हूं।”

भूपति और सानिया ने मिलकर दो बार मिश्रित युगल वर्ग में ग्रैंड स्लैम जीते हैं। इन दोनों ने 2009 में आस्ट्रेलियन ओपन और 2012 में फ्रेंच ओपन के खिताब जीते हैं। 2012 के बाद से दोनों अलग हो गए थे। डेविस कप टीम के पूर्व कप्तान जयदीप मुखर्जी ने सानिया को उनके शुरुआती दिनों से देखा है। उनका कहना है कि सानिया योद्धा हैं और उनकी वापसी शानदार है।

उन्होंने कहा, “मैंने हमेशा उनके अंदर एक योद्धा देखा है। दो साल तक टेनिस न खेलने के बाद वापसी करना आसान नहीं होता। उन्होंने जो किया उसने सिर्फ उनकी क्लास और खेल के प्रति प्रतिबद्धता के बारे में बताया है। मुझे उम्मीद है कि वह चोटों से मुक्त रहें और स्वास्थय रहें। इस साल कई अच्छी चीजें आने वाली हैं।”सानिया और नादिया की जोड़ी ने फाइनल में चीन की पेंग शुई और झांग शुई की जोड़ी को एक घंटे 21 मिनट तक चले मैच में 6-4, 6-4 से मात दे खिताब अपने नाम किया।