जयपुर

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए आदिवासी छात्राओं को स्कूटी वितरित किए जाने की योजना को मंजूरी दे दी। इसके तहत वित्तीय वर्ष 2019-20 में आदिवासी क्षेत्रीय विभाग आदिवासी लड़कियों को 6 हजार स्कूटी बांटेगा। सरकार की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि छात्राओं को बांटी जाने वाली स्कूटियों की संख्या पहले 4 हजार थी, जिसे बढ़ाकर 6 हजार कर दिया गया है।
 सरकारी वक्तव्य में इसके अलावा यह भी बताया गया है कि सीएम गहलोत ने देवनारायण स्कूल स्कूटी स्कीम के तहत बांटी जाने वाली स्कूटी की संख्या में भी बढ़ोतरी की है। अब इस योजना के अंतर्गत एक हजार की बजाय एक हजार 500 मेधावी आदिवासी छात्राओं को स्कूटी वितरित की जाएगी। राज्य सरकार ने कहा कि सीएम की यह योजना बालिकाओं की शिक्षा को बढ़ावा देने का काम करेगी।

सीएम गहलोत ने इसके अलावा अनुसूचित जाति और अल्पसंख्यकों के लिए कालीबाई भील मेधावी छात्र स्कूटी योजना को भी मंजूरी दे दी। इस फैसले के बाद अनुसूचित जाति और अल्पसंख्य समुदाय के मेधावी छात्रों को भी सरकार की ओर से स्कूटर दिया जाएगा।