सर्दियों में चाय हर किसी का फेवरेट और एनर्जेटिक ड्रिंक होता है। इस मौसम में लोगों को इलायची, अदरक और लौंग, हर तरह चाय का फ्लेवर खूब भाता हैं। इसके अलावा सर्दियों में गुड़ की चाय पीने में खूब स्‍वाद लगती हैं और ये बहुत पौष्टिक भी होती है। जाड़े के मौसम में गुड़ की चाय पीना कई और फायदे देती हैं।

गुड़ आयरन से भरा होता और इसकी तासीर गर्म भी होती है। सिर से पैर तक की कई बीमारियों में गुड़ की चाय बहुत फायदेमंद है। इसे बनाना भी आसान होता है। गुड़ की चाय में कुछ आयुर्वेदिक चीजें मिलाने से ये दवा की तरह काम करती है।

एनिमिया का करें दूर
जिन लोगों में खून की कमी हो उन्हें गुड़ की चाय पीना चाहिए। गुड़ शरीर में रक्त को बढ़ाने का काम करता है। साथ ही ये ब्लड को साफ करने का काम करता है। मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने के साथ ये ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाता है।

सर्दी-जुकाम को करें छू-मंतर
गुड़ की तासीर थोड़ी गर्म होती हैं। इसलिए ठंड में गुड़ की चाय पीने से जुकाम और कफ से राहत मिलती है। गुड़ की चाय में अदरक, कालीमिर्च और तुलसी पत्ता डाल कर पीने से कफ और जुकाम की समस्या दूर हो जाती है।


शरीर को डिटॉक्स करने में कारगर
गुड़ की चाय में शरीर को डिटॉक्स करने का गुण होता है। जिन लोगों को गले और लंग्स में बार बार संक्रमण होता हो, उन्हें गुड़ की चाय पीना बहुत लाभकारी होगा।

थकान और कमजोरी का नहीं होता है महसूस
यदि आपको हमेशा थकान महसूस होती हो तो आपको गुड़ की चाय पीना फायदा देगा। गुड़ की चाय ऊर्जा देती है और साथ ही शरीर की कमियों को दूर भी करती है।


ऐसे बनाएं गुड़ की चाय
गुड़ की चाय बनाने के लिए एक पैन में पानी डाले और उसमें गुड़ डाल दें। साथ ही इसमें कालीमिर्च, लौंग, इलायची, अदरक और तुलसी का पत्ता डाल कर खूब उबाल लें। जब इसमें से खुशबू आने लगे तो थोड़ी सी चायपत्ती डाल कर छान लें। कोशिश करें की इसे बिना दूध के पीएं और यदि दूध डालना है तो दूध ऊपर से गर्म कर इसमें मिला लें। और सर्दियों में इसे कम ही पीएं।