जबलपुर
  नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जबलपुर में उपजे उपद्रव को देखते हुए जिला दंडाधिकारी ने शहर के चार थानों में अनिश्चितकालीन के लिए कर्फ्यू लगा दिया है। इसके साथ ही शनिवार को लगने वाले सभी शासकीय-अशासकीय स्कूल कॉलेज एवं आंगनवाड़ी केंद्रों में छुट्टी घोषित कर दी गई है।

दरअसलदोपहर को नागरिकता संशोधन कानून को लेकर एक समुदाय के सैकड़ों लोग सड़कों पर उतर कर उपद्रव करने लगे थे।इस दौरान जब पुलिस ने उन्हें समझाइश देने की कोशिश की तो उन्होंने पथराव कर दिया बदले में पुलिस ने भी प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े साथ ही बल प्रयोग किया। इस उपद्रव में पुलिस के कई जवान घायल हुए हैं तो वही कई गाड़ियां भी पुलिस की क्षतिग्रस्त हुई है। इस उपद्रव को देखते हुए जिला दंडाधिकारी भरत यादव ने संपूर्ण गोहलपुर-हनुमानताल थाना तो वहीं कोतवाली थाना के मिलोनीगंज एवं अधारताल थाना के मेहरिया और आनंद नगर क्षेत्र में अनिश्चितकालीन के लिए कर्फ्यू लगा दिया है।

उपद्रव को देखते हुए कलेक्टर भरत यादव एवं एसपी अमित सिंह लगातार क्षेत्र में भ्रमण कर रहे हैं वहीं संवेदनशील क्षेत्रों में पर्याप्त सुरक्षा बल भी तैनात किया गया है। बहरहाल अभी स्थिति शांतिपूर्ण है। इधर लगातार विवाद को देखते हुए रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय में होने वाली सभी परीक्षाएं आगामी समय तक के लिए स्थगित कर दी है। इधर जबलपुर में हुए उपद्रव की सूचना पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने वित्त मंत्री तरुण भनोट और सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया को स्पेशल प्लेन से जबलपुर के लिए रवाना किया है, साथ ही निर्देश दिए हैं कि जबलपुर के हालातों को नियंत्रण कर पल पल की जानकारी उन्हें दे।