गोपालगंज                      
बिहार के गोपालगंज जिले के बैकुंठपुर थाने के उसरी गांव में बुधवार की देर शाम दो सिरफिरे युवकों ने आंगन में खाना बना रही एक सोलह वर्षीया छात्रा को तेजाब फेंक कर जख्मी कर दिया। वह 9वीं में पढ़ती है। जख्मी छात्रा को इलाज के लिए स्थानीय सीएचसी में भर्ती कराया गया। प्राथमिक इलाज के बाद डॉक्टरों ने उसे पीएमसीएच रेफर कर दिया। सीरिंज से तेजाब फेंके जाने से छात्रा के पूरे चेहरे पर डार्क स्पॉट बन गया है। पुलिस ने फौरी कार्रवाई करते हुए तेजाब फेंकने वाले दोनों आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। 
 
पुलिस के अनुसार फब्तियां कसने व छेड़खानी का विरोध करने पर घटना को अंजाम देने की बात सामने आ रही है। गिरफ्तार राजा कुमार व सोनू कुमार के खिलाफ छात्रा की मां ने प्राथमिकी दर्ज करायी है। पुलिस ने दोनों को गुरुवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इसके पूर्व बुधवार की देर शाम हुई घटना के बाद  परिजनों में अफरा-तफरी मच गई। तेजाब फेंके जाने के बाद पीड़िता दर्द व जलन से कराहने लगी। उसके घर पर ग्रामीणों की भारी भीड़ जुट गई। घटना से लोग आक्रोशित थे। घटना के अंजाम देने के बाद दोनों आरोपित मौके से फरार हो गए। इसकी सूचना मिलने पर स्थानीय भाजपा विधायक मिथिलेश तिवारी पीड़िता का हाल चाल जानने सीएचसी पहुंचे। उन्होंने फोन पर एसपी को घटना की जानकारी देते हुए आरोपितों को गिरफ्तार करने की मांग की। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने दोनों आरोपितों को करीब दो घंटे के भीतर दबोच लिया। 

पहले से पीछा कर थे दोनों 
परिजनों के अनुसार दोनों युवक छात्रा की पहले से पीछा कर रहे थे। बगल के रहने वाले आरोपित के अश्लील गाना बजाने व छेड़खानी की वह विरोध कर रही थी। इसको लेकर कई बार विवाद भी हुआ था। 

सुरक्षा को लेकर अभिभावक चिंतित 
घटना के बाद स्कूलों- कालेजों में पढ़ने वाली किशोरियों व युवतियों की सुरक्षा पर सवाल उठने लगे हैं। घर से अकेले आने जाने वाली लड़कियां सहमी हुई हैं। अभिभावकों की माने तो स्कूल व कोचिंग जाने वाले रास्ते पर मनचले व सिरफिरे हर हमेशा मंडराते रहते हैं। आए दिन छेड़खानी की घटनाओं को रोकने में पुलिस विफल साबित हो रही है। लोक लाज के भय से पीड़िता व अभिभावक पुलिस से इसकी शिकायत करने से भी हिचक रहे हैं। 

आपसी विवाद व छेड़खानी का विरोध करने पर घटना को अंजाम देने की बात सामने आ रही है।  दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले की तहकीकात की जा रही है। 
अमितेश कुमार, थानाध्यक्ष, बैकुंठपुर