नई दिल्‍ली
 लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिड़ला ने शनिवार को शीतकालीन सत्र से पहले सभी पार्टियों की बैठक बुलाई है। यह बैठक संसद को सुचारू रूप से चलाने के लिए बुलाई गई है।  इस बैठक में शामिल होने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी भी पहुंच गए हैं।

गौरतलब है कि संसद का शीतकालीन सत्र सोमवार से शुरू होगा। इस सत्र में सरकार का जोर नागरिकता समेत कई अहम बिल पास कराने पर होगा। वहीं विपक्ष राफेल सौदे की जांच के लिए जेपीसी के गठन व महाराष्ट्र के मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा कराने के लिए दबाव बना सकता है। संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी ने रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। शीतकालीन सत्र 13 दिसंबर तक चलेगा।

सूत्रों के अनुसार मोदी सरकार ने सत्र के लिए कार्यसूची में नागरिकता (संशोधन) विधेयक को रखा है। मोदी सरकार ने पहले कार्यकाल में इस बिल को संसद में पेश किया था, लेकिन विपक्ष के विरोध के चलते यह पारित नहीं हो सका था।