रेवाड़ी
 दिल्ली से महेंद्रगढ़ स्थित केंद्रीय विश्वविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने जाते समय रेवाड़ी से गुजरे उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने महाराणा प्रताप चौक के निकट जब अपने दो तीन पुराने कार्यकर्ताओं को खड़े देखा तो गाड़ी को ब्रेक लगवा दिए। उपमुख्यमंत्री गाड़ी से नीचे उतरे और कार्यकर्ताओं का हालचाल जानकर आगे निकल गए। उपमुख्यमंत्री की इस शालीनता को देखकर वहां खड़े लोग भी हतप्रभ रह गए।

एक मिनट ही रुक पाए डिप्टी सीएम

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला शुक्रवार को दिल्ली से महेंद्रगढ़ गए थे। महेंद्रगढ़ स्थित केंद्रीय विवि में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। सुबह करीब 10 बजे दुष्यंत चौटाला महाराणा प्रताप चौक के निकट से गुजरे। पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं को इस बात की जानकारी मिली थी कि दुष्यंत चौटाला यहां से गुजर सकते हैं।

महाराणा प्रताप चौक के निकट ही जजपा के पार्टी कार्यालय अध्यक्ष अमन जून व ओबीसी सेल के जिला प्रधान टेकचंद सैनी व कुछ अन्य कार्यकर्ता खड़े हुए थे। दुष्यंत चौटाला काफिले के साथ जब यहां से गुजरने लगे और कार्यकर्ताओं को खड़े हुए पाया तो उन्होंने अपनी गाड़ी के ब्रेक लगवा दिए। काफिला रुक गया। डिप्टी सीएम गाड़ी से नीचे उतरे तथा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से उनका हालचाल जानकर आगे निकल गए।

कांग्रेस के खिलाफ भाजपा ने दिया धरना

वहीं, रेवाड़ी में राफेल मामले में भाजपा सरकार को क्लीन चिट मिलने के बाद अब कांग्रेस को उसके लगाए आरोपों के लिए घेरना शुरू कर दिया गया है। इसी कड़ी में शनिवार को भाजपा की ओर से जिला सचिवालय के बाहर कांग्रेस के खिलाफ धरना दिया।

जिलाध्यक्ष पंडित योगेंद्र पालीवाल ने बताया कि भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता सुबह 10 बजे से धरना दे रहे हैं।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व सरकार पर झूठे आरोप लगाए। उच्चतम न्यायालय ने राफेल मामले में अब क्लीन चिट दे दी है, जिससे कांग्रेस का झूठ का नकाब भी हट गया है। कांग्रेस का झूठा चेहरा सामने लाने के लिए ही शांतिपूर्ण धरना दिया जा रहा। कांग्रेस के झूट और प्रपंच को पूरा देश के सामने लाने के लिए इस तरह के आयोजन किये जा रहे हैं।