इंदौर 
भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफल टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने अपने नाम एक और उपलब्धि दर्ज कर ली है। शनिवार को भारत ने उनकी अगुआई में बांग्लादेश को पारी और 130 रनों से हरा दिया। इसके साथ ही कोहली विपक्षी टीम को सबसे ज्यादा बार पारी की हार से मात देने वाले भारतीय कप्तान बन गए। यह दसवां मौका था जब कोहली की कप्तानी में भारत ने पारी के अंतर से विपक्षी टीम को हराया। कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ा। उनकी कप्तानी में भारत ने नौ बार विपक्षी टीम को पारी के अंतर से हराया था। भारतीय क्रिकेट टीम ने इंदौर टेस्ट के तीसरे दिन ही बांग्लादेश को चित्त कर दिया। भारत ने मेहमान टीम को पारी और 130 रनों से हराया। बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। उसकी पूरी टीम 150 रनों पर आउट हो गई। इसके बाद भारत ने मयंक अग्रवाल के दोहरे शतक की मदद से 6 विकेट पर 493 रन बनाकर पारी घोषित कर दी। बांग्लादेश को पारी की हार से बचने के लिए 343 रन बनाने थे लेकिन दूसरी पारी में वह 213 रनों पर ऑल आउट हो गया। भारत ने मुकाबला पारी और 130 रनों से जीता। 

धोनी के बाद भारतीय लिस्ट में मोहम्मद अजहरुद्दीन और सौरभ गांगुली का नाम आता है जिन्होंने क्रमश: 8 और सात बार विपक्षी टीम को पारी के अंतर से हराया। इसके साथ ही इस सीजन में यह लगातार मौका है जब भारत ने पारी के अंतर से जीत हासिल किया है। इससे पहले भारत ने साउथ अफ्रीका को पुणे में पारी और 137 और फिर रांची में पारी और 202 रन से हराया था। इससे पहले भारतीय टीम ने दो बार और तीन बार पारी के अंतर से जीत हासिल की है। 1992/93 में भारत ने इंग्लैंड को मुंबई में पारी और 22 रनों से फिर मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में पारी और 15 रन और जिम्बाब्वे को दिल्ली में पारी और 13 रनों से मात दी थी। 1993/94 के सीजन में भारत ने श्रीलंका को पारी और 119 रनों से लखनऊ, पारी और 95 रनों से बेंगलुरु और फिर पारी और 17 रनों से अहमदाबाद में हराया था।