दौर 
भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने गुरुवार को बांग्लादेश के खिलाफ इंदौर टेस्ट के दौरान एक खास उपलब्धि हासिल की। उन्होंने बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हम को 37 रन पर बोल्ड करते हुए मैच में अपना पहला विकेट लिया, जबकि भारतीय मैदान पर यह उनका 250वां टेस्ट विकेट रहा। इसके साथ ही वह अनिल कुंबले और हरभजन सिंह के क्लब में शामिल हो गए। वह भारत में 250 टेस्ट विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बने। उनसे पहले सिर्फ कुंबले और हरभजन सिंह ने ही यह मुकाम हासिल किया है। भारत में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की बात करें तो कुंबले सबसे आगे हैं। भारत के सबसे कामयाब टेस्ट बोलर कुंबले ने घरेलू मैदान पर 63 टेस्ट मैचों में 350 विकेट लिए हैं। हरभजन सिंह ने 55 टेस्ट मैचों में 265 विकेट लिए हैं।

भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों में अनिल कुंबले ने 619 और कपिल देव ने 434 विकेट लिए हैं। वहीं हरभजन सिंह के नाम 417 टेस्ट विकेट हैं। इस मैच से पहले अश्विन के नाम भारत में खेले 41 टेस्ट मैचों में 249 विकेट थे। उन्होंने यहां 21 बार पारी में पांच विकेट लेने का करिश्मा किया है। अश्विन के करियर की बात करें तो उनके नाम 69 टेस्ट मैचों में 358 विकेट हैं। वह टेस्ट में सबसे तेजी से 350 विकेट पूरे करने वाले बोलर हैं। उल्लेखनीय है कि इंदौर टेस्ट में बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बोलिंग का फैसला किया। इससे पहले टी-20 इंटरनैशनल सीरीज में भारत ने उसे 2-1 से हराया था। टी-20 सीरीज में रोहित कप्तान थे, जबकि टेस्ट सीरीज में विराट कोहली कप्तान हैं।