ब्रासिलिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को यहां चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ मुलाकात की और उनके साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के तौर -तरीकों पर चर्चा की। दोनों नेताओं के बीच इससे पहले बीते अक्टूबर में भारत में अनौपचारिक बैठक हुई थी।। मोदी 11वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए यहां पहुंचे हैं। मोदी ने इस शिखर सम्मेलन के इतर शी के साथ यह मुलाकात की। यह शिखर सम्मेलन आतंकवाद निरोधक सहयोग के लिए तंत्र बनाने पर ध्यान केंद्रित करेगा और दुनिया की पांच प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के साथ भारत के संबंधों को मजबूत करेगा।
 ब्रिक्स विश्व की पांच उभरती अर्थव्यवस्थाओं का समूह है जिसमें ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं। मोदी और शी ने विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत की। दोनों नेताओं के बीच 11-12 अक्टूबर को चेन्नई के समीप मामल्लापुरम में दूसरा अनौपचारिक शिखर सम्मेलन हुआ था। उस दौरान दोनों ने विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की थी और आतंकवाद, कट्टरपंथ से संयुक्त रूप से लड़ने, द्विपक्षीय व्यापार एवं निवेश को बढ़ाने का निश्चय प्रकट किया था। ब्रासीलिया में दोनों नेताओं के बीच यह बैठक ऐसे समय में हो रही है जब महज कुछ दिन पहले ही भारत ने चीन समर्थित क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी (आरसीईपी) से नहीं जुड़ने का फैसला किया।
 
प्रधानमंत्री मोदी और शी के बीच सीमाओं पर शांति बनाए रखने को लेकर भी चर्चा हुई। दोनों नेताओं ने इस बात पर सहमति व्यक्त की कि दोनों देशों के विशेष प्रतिनिधि वार्ता करके सीमा पर किसी भी तरह के तनाव को खत्म करेंगे और शांति बहाल करने की दिशा में बातचीत आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने WTO, BRICS और आरसीईपी के मामले में भी विचार साझा किए।