नई दिल्ली
दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में हुई हिंसक झड़प का एक नया विडियो सामने आने के बाद अब इस मामले पर चर्चा शुरू हो गई है। सोशल मीडिया पर सामने आए विडियो में दिल्ली पुलिस की डीसीपी नॉर्थ मोनिका भारद्वाज के साथ बदसलूकी होने की बात सामने आई है। हालांकि विडियो के बारे में बात करते हुए मोनिका भारद्वाज ने कहा कि वह न्यायिक जांच के दौरान अपनी बात जांच समिति के सामने रखेंगी। मोनिका ने बताया कि पुलिस की टीम वहां भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पहुंची थी और वह इसी टीम के साथ कोर्ट परिसर में गई थीं।

मोनिका ने कहा कि उक्त घटना की जांच के लिए पहले ही जूडिशल इन्क्वायरी का आदेश दे दिया गया है और ऐसे में जांच समिति के सामने अपना पक्ष अवश्य रखूंगी। मैं लोगों द्वारा मेरे प्रति दिखाई गई सहानुभूति के लिए उनका धन्यवाद देती हूं। बता दें कि तीस हजारी कोर्ट में हिंसक झड़प के दो और विडियो गुरुवार को सामने आए हैं। दोनों विडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहे हैं। विडियो में कुछ लोग महिला पुलिस अफसर मोनिका भारद्वाज (डीसीपी नॉर्थ) के आसपास सुरक्षा घेरा बनाते हुए भीड़ से बाहर निकालकर ले जाते दिखाई दे रहे हैं। वहीं दूसरे विडियो में भारद्वाज हिंसा थामने के लिए वकीलों के सामने हाथ जोड़ रही हैं। विडियो के आधार पर आरोप लग रहे हैं कि महिला अफसर और उनके स्टाफ से बदसलूकी हुई है।


इस बात की पुष्टि घटना के अगले ही दिन वायरल हुआ वो ऑडियो टेप भी कर रहा है जिसमें सीनियर अफसर का ऑपरेटर हिंसक भीड़ द्वारा किए दुर्व्यवहार के बारे में जिक्र कर रहा है। हालांकि वायरल विडियो में बदसलूकी या हाथापाई जैसी तस्वीरें साफ नहीं हैं। विडियो से यह भी दावा नहीं किया जा सकता कि भीड़ में कौन लोग थे। आरोप यह भी है कि महिला आईपीएस का कॉलर तक पकड़ा गया था।

कोर्ट के बाहर भागती दिखीं महिला अफसर
दरअसल, इस विडियो की शुरुआत में महिला अफसर अपने स्टाफ के साथ लॉकअप की तरफ भागती नजर आ रही हैं। तभी लॉकअप के पास जोरदार धमाका होता है और आग की लपटें व धुआं दिखाई देता है। इसके बाद कथित तौर पर भीड़ इतनी उग्र हुई की महिला अफसर अपने स्टाफ के साथ जान बचाते हुए कोर्ट के बाहर जाने के लिए भागती नजर आ रही हैं। इसी दौरान उनसे बदसलूकी के आरोप लग रहे हैं।

विडियो में हाथ जोड़ती दिखीं मोनिका भारद्वाज
यह दूसरा विडियो है। इसमें डीसीपी नॉर्थ मोनिका भारद्वाज भागकर वहां पहुंची हैं जहां आग लगी। सामने से आती वकीलों की भीड़ के सामने डीसीपी हाथ जोड़ती दिख रही हैं। तभी वहां धक्का-मुक्की होने लगती है। इस घटना पर अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वत: संज्ञान ले लिया है। चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने इसकी जांच की मांग की है।