ग्वालियर
कांग्रेस के राष्‍ट्रीय महासचिव ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) समर्थक कैबिनेट मंत्री प्रद्धुमन सिंह तोमर (Pradhuman Singh Tomar) के सफाई अभियान (Cleanliness Campaign) पर मध्‍य प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी (Imarti Devi) ने ही तंज कसा है. उन्‍होंने कहा कि हम क्यों नाले में उतरें, बीजेपी सरकार के वक्त भी हम अधिकारियों से सफाई कराते थे, अब तो हमारी सरकार है. हम मंत्री हैं और हम क्यों नाले में उतरें. आपको बता दें कि इमरती देवी को भी सिंधिया का समर्थक माना जाता है. जबकि अंडा सियासत पर इमरती देवी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी की सरकार और आरएसएस (RSS) के मुख्यालय वाले राज्य महाराष्ट्र में अंडा परोसा जा रहा है. बीजेपी को वहां एतराज नहीं है और एमपी में विरोध कर रहे हैं.

कैबिनेट मंत्री प्रद्धुमन सिंह तोमर के सफाई अभियान पर मंत्री इमरती देवी ने तंज़ कसते हुए कहा कि कोई नाले में उतर कर सफाई करता है तो मैं उसको नहीं रोकती, लेकिन मेरी विचारधारा अलग है. इमारती देवी ने कहा कि मैं 10 साल बीजेपी सरकार के वक्त विधायक रही, तब भी जबरन अधिकारियों से सफाई कराई है. अब हम सत्ता में है हमारी सरकार, वहां के मंत्री हैं तो हम क्यों नाले में उतर कर सफाई करें. हम क्यों ना अधिकारियों को नाले में उतार कर सफाई कराएं. हम डबरा में खड़े रहकर अधिकारियों से सफाई कराते हैं. गौरतलब है कि सिंधिया समर्थक मंत्री प्रद्धुमन सिंह तोमर बीते एक सप्ताह से सफाई अभियान चला रहे हैं और वह नालों में उतरकर सफाई कर रहे हैं.

मध्य प्रदेश सरकार की महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने बीजेपी को अंडे खिलाने का विरोध करने पर करारा जवाब दिया है. उन्‍होंने कहा कि बीजेपी शासित जिस राज्य में संघ का मुख्यालय है, वहां 2016 से आंगनवाड़ियों में अंडे खिलाए जा रहे हैं. जबकि वह इसकी ग्राउंड रिपोर्ट की जानकारी लेने खुद महाराष्ट्र गई थीं. वहां के महिला बाल विकास विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मीटिंग की तो पता चला कि सरकार 2016 से कुपोषण दूर करने के लिए अंडे खिलाती है. फिर मध्य प्रदेश के कुपोषित बच्चों पर बीजेपी क्यों सियासत कर रही है? उन्होंने आगे कहा कि केवल महाराष्ट्र ही नहीं बिहार, तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, उड़ीसा जैसे राज्यों में भी अंडे खिलाए जाते हैं. पहले बीजेपी वहां बंद कराएं, तब मध्य प्रदेश में अंडे की बात करें.