समस्तीपुर

बिहार सरकार के एक मंत्री ने मुख्यमंत्री के फैसले पर सवाल उठाकर शिलान्यास समारोह का बहिष्कार कर दिया. मामला श्री राम जानकी मेडिकल कालेज के शिलान्यास का है. इस मेडिकल कॉलेज के स्थान को लेकर नीतीश कुमार को विपक्षी दलों के साथ-साथ अपने ही मंत्री का विरोध झेलना पड रहा है. बुधवार को समस्तीपुर में शिलान्यास के दौरान उनके योजना मंत्री माहेश्वरी हजारी इस कार्यक्रम में उपस्थित नही हुए.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी अपनी ही पार्टी के मंत्री महेश्वरी हजारी को करारा जवाब दिया और कहां कि मेडिकल कालेज दरभंगा में नही बन रहा है बल्कि ये जगह भी समस्तीपुर भी है. विपक्ष पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि अपने समय में वो क्या कर रहे थे? हम बिहार में विकास का काम कर रहे है और करते रहेंगे जिसको जो कहना है, कहता रहे.

क्यों हुए मंत्री महेश्वर नाराज

मंत्री महेश्वरी हजारी ने अपने बयान में कहा था कि एक बडे नेता के दबाव और मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के नियमों के खिलाफ जाकर अस्पताल का निर्माण शहर से 30 किलोमीटर दूर कराया जा रहा है. उन्होंने कहा था कि मेडिकल कालेज के लिए जब समस्तीपुर शहर में जमीन उपलब्ध है फिर इतनी दूर जाने की क्या जरूरत है. बता दें कि मेडिकल कॉलेज अस्पताल का निर्माण समस्तीपुर के सरायरंजन ब्लाक के नारघोघी में किया जा रहा है. ये इलाका विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी का क्षेत्र है.