पैरिस
स्पेन के दिग्गज टेनिस खिलाड़ी राफेल नडाल सोमवार को ठीक एक साल बाद फिर से दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी बन गए। उन्होंने नोवाक जोकोविच की जगह ली है जो दूसरे नंबर पर खिसक गए हैं। नडाल इससे पहले चार नवंबर 2018 को नंबर एक पर काबिज थे। यह आठवां मौका है जबकि 33 वर्षीय यह खिलाड़ी शीर्ष पर पहुंचा है।

नडाल 1973 के बाद एटीपी रैंकिंग में नंबर एक की कुर्सी पर काबिज होने वाले दूसरे उम्रदराज खिलाड़ी हैं। फेडरर 2018 में 36 साल की उम्र में नंबर-1 बने थे। नडाल का प्रयास अब साल के आखिर में नंबर एक पर बने रहना होगा। अगर वह ऐसा करने में सफल रहते हैं तो साल के आखिर में नंबर एक पर काबिज रहने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन जाएंगे। उन्हें हालांकि लंदन में होने वाले एटीपी टूर फाइनल्स के फिट होना होगा।

अगर नडाल इसमें नहीं खेलते हैं और जोकोविच फाइनल में पहुंच जाते हैं तो फिर सर्बियाई खिलाड़ी फिर से शीर्ष पर पहुंच जाएगा। नडाल पहली बार अगस्त 2008 में शीर्ष पर पहुंचे थे। वह अब तक 197 सप्ताह (वर्तमान सप्ताह सहित) नंबर एक रह चुके हैं। फेडरर 1973 के बाद सर्वाधिक 310 सप्ताह शीर्ष पर काबिज रहे हैं। उनके बाद पीट संप्रास (286), जोकोविच (275), इवान लेंडल (270), जिम्मी कोनर्स (268) और नडाल का नंबर आता है।