नई दिल्ली 
भारत ने पुणे टेस्ट के चौथे दिन दक्षिण अफ्रीका को एक पारी एक 137 रन से हराकर 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है। घरेलू मैदानों पर यह भारत की लगतार 11वीं सीरीज जीत है। भारतीय कप्तान ने चौथे दिन दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन दिया और गेंदबाजों ने टी-ब्रेक के बाद 189 रन पर मेहमान टीम को ढेर कर दिया। आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारत की यह चौथी जीत है। वेस्टइंडीज को भी भारत ने 2-0 से हराया था। मैच के बाद विराट कोहली ने टीम के ऑलराउंड प्रदर्शन और खिलाड़ियों की शानदार परफॉर्मेंस की तारीफ की। 

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा, ''जब हमने शुरुआत की थी, तब हम टेस्ट रैंकिंग में सातवें नंबर पर थे। हमारे पास एक ही रास्ता था कि हम ऊपर जाएं। हमने खिलाड़ियों को यह समझाया कि कड़ी मेहनत करनी है। हम भाग्यशाली है कि हमारे पास अच्छे खिलाड़ी हैं। पिछले तीन-चार साल से यही स्थिति है। अपने खिलाड़ियों के भीतर बेहतर करने का जुनून देखकर अच्छा लगता है।''
 
विराट कोहली ने पहली पारी में शानदार 254 रन बनाए। पुणे टेस्ट में उन्हें 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया। उन्होंने कहा, ''जैसा कि कुछ दिन पहले ही मैंने कहा था कि कप्तानी की जिम्मेदारी उठाना बड़ी बात है। यदि आप यह सोचकर बल्लेबाजी करने मैदान में उतरते हैं कि आपको दोहरा शतक बनाना है तो यह मुश्किल है लेकिन अगर आप यह सोचकर खेलते हैं कि आपको पांच सेशन खेलने हैं तो दोहरा शतक अपने आप बन जाता है।''

उन्होंने आगे कहा, ''पहले मैं निजी परफॉर्मेंस के विषय में सोचता था, लेकिन अब मैं टीम के बारे में सोच रहा हूं। मुझे लगता है कि मैंने बहुत से लोगों को गलत साबित किया है। मैं जहां हूं उससे खुश हूं। हमने मिलकर टीम को बुलंदी तक पहुंचाया है। जाहिर है मुझे स्कोर करके खुशी होती है।''
 
बता दें कि यह घर में भारत की रिकॉर्ड लगातार 11वीं सीरीज जीत है। इस जीत के साथ भारत ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बनाकर फ्रीडम ट्रॉफी पर भी कब्जा कर लिया है। भारत ने 2018 में दक्षिण अफ्रीका दौरे पर 1-2 की हार के साथ यह ट्रॉफी गंवा दी थी। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सीरीज सीरीज का तीसार और अंतिम मैच शनिवार (19 अक्टूबर) से रांची में खेला जाएगा।"