पुणे
भारतीय क्रिकेट टीम ने रविवार को यहां महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका को एक पारी और 137 रनों से हरा दिया। भारत ने अपनी पहली पारी पांच विकेट पर 601 रनों पर घोषित कर दी थी। इसके बाद उसने मेहमान टीम की पहली पारी 275 रनों पर समेटकर उसे फॉलोऑन के लिए बाध्य किया। चौथे दिन रविवार को मेहमान टीम फॉलोऑन के लिए उतरी और 189 रनों पर ऑलआउट हो गई।

उसकी ओर से दूसरी पारी में डीन एल्गर ने सबसे अधिक 48 रन बनाए, जबकि तेंदा बावुमा ने 38 तथा वर्नोन फिलैंडर ने 37 रनों की पारी खेली। दूसरी पारी में भारत के लिए रविंद्र जडेजा और उमेश यादव ने तीन-तीन विकेट लिए जबकि रविचंद्रन अश्विन को दो सफलता मिली। इसके साथ भारत ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली है। उसने विशाखापट्टनम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में 203 रनों से जीत हासिल की थी।


भारत की घर में लगातार 11वीं सीरीज जीत
इस मैच के साथ ही भारतीय टीम ने अपने घरेलू मैदान पर लगातार 11वीं टेस्ट सीरीज जीत दर्ज की, जो वर्ल्ड रेकॉर्ड है। भारत को 2012/13 से अब तक कोई टीम घर में टेस्ट सीरीज में नहीं हरा पाई है। इससे पहले घर में लगातार सबसे अधिक टेस्ट सीरीज जीतने का रेकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के नाम था। उसने 1994/95 - 2000/01 और 2004 - 2008/09 के बीच लगातार 10-10 टेस्ट सीरीज अपने नाम की थी।

    11 सीरीज: भारत 2012/13 (जारी)
    10 सीरीज: ऑस्ट्रेलिया 1994/95 - 2000/01
    10 सीरीज: ऑस्ट्रेलिया 2004 - 2008/09
    08 सीरीज: वेस्ट इंडीज 1975/76 - 1985/86

देश से बाहर साउथ अफ्रीका की लगातार छठी हार
दूसरी ओर, साउथ अफ्रीका की यह देश से बाहर लगातार छठी टेस्ट हार है। 2017 से वह देश के बाहर टेस्ट मैच नहीं जीत पाई है। देखा जाए तो यह उसका दूसरा शर्मनाक रेकॉर्ड है। इससे पहले फरवरी 1911 से अगस्त 1924 के बीच उसने लगातार 10 टेस्ट मैच हारे थे।