भोपाल
मध्य प्रदेश में इन दिनों कांग्रेस सरकार में पत्राचार काफी तेज़ी से चल रहा है। मंत्री से लेकर विधायक और वरिष्ठ नेता अपनी बात खुले तौर पर कहने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र लिख रहे हैं। इसी क्रम में पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक बार फिर मुख्यमंत्री कमनाथ को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने अपने भिंड प्रवास के दौरान महत्वपूर्ण मांगों का उल्लेख किया है।

सिंधिया ने इस पत्र को अपने ट्विटर पर भी शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि, 'भिंड प्रवास के दौरान जिला और जनपद पंचायत के अध्यक्ष व सदस्यों ने मेरे समक्ष कई महत्वपूर्ण मांगे रखी थीं। मैने मुख्यमंत्री कमलनाथ जी को पत्र लिखकर जनप्रतिनिधियों की इन मांगों पर गंभीरतापूर्वक विचार कर उचित कार्यवाही करने का अनुरोध किया।'

इन मांगों का किया उल्लेख

  • जिला पंचायत अध्यक्ष, सदस्य, जनपद पंचायत अध्यक्ष एवं सदस्यों ने कई मांगें रखी हैं।
  • पंचायत सचिवों एवं पंचायत के अधिकारियों के तबादले के अधिकार जिला पंचायत एवं जनपद पंचायत को प्रदान किया जाए।
  • जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष को पूर्व में जो शक्तियां प्राप्त थीं, उन्हें पुन: प्रदान की जाएं।
  • संविदा नियुक्तियां जिला एवं जनपद स्तर से की जाएं।
  • जिला पंचायत के स्तर पर बजट का आवंटन हो ताकि पंचायतों के निर्वाचित प्रतिनिधि अपने विवेक से निधि से जन विकास में उपयोग कर सकें।