नई दिल्ली
डेनमार्क के कोपेनहेगन में जलवायु परिवर्तन पर होने वाले C40 सम्मेलन में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को जाने की अनुमति नहीं मिलने पर केंद्र सरकार ने सफाई दी है। सरकार का कहना है कि कोपेनहेगन में आयोजित समारोह मेयर के स्तर का था, इसलिए दिल्ली के सीएम को उसमें शामिल होने की अनुमति नहीं दी गई।

केजरीवाल के डेनमार्क दौरे से संबंधित एक सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को कहा, 'यह एक मेयर स्तर की कॉन्फ्रेंस है और इसमें पश्चिम बंगाल के एक मंत्री शामिल होंगे।' सूत्रों के अनुसार सीएम के लिए अलग प्रोटोकॉल का पालन किया जाता है और विपक्षी पार्टियों को निशाना बनाए जाने की बात सही नहीं है।


सम्मेलन में केजरीवाल दिल्ली सरकार द्वारा प्रदूषण नियंत्रण के लिए किए गए प्रयासों समेत कई अन्य मुद्दों पर दो सेशन को संबोधित करने वाले थे। सूत्रों के अनुसार केजरीवाल ने इस समारोह के लिए स्पीच भी तैयार कर ली थी। उन्हें कोपेनहेगन में कई शहरों के मेयर से भी मीटिंग करनी थी। गौरतलब है कि दिल्ली सीएम को अनुमति नहीं मिलने के बाद आप के नेता और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने केंद्र सरकार पर दुर्भावना से काम करने का आरोप लगाया था।