भोपाल
मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने एलान किया है कि अब वो मंच पर नहीं बैठेंगे। इसके साथ ही दिग्विजय सिंह ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा कि कार्यकर्ताओं को भी अब मंच पर नहीं बैठना चाहिए। पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर नई पहल शुरू करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को एडवाइजरी जारी की है।

मंच पर नहीं बैठेंगे
दिग्विजय सिंह ने एडवाइजरी जारी करते हुए कहा- अब वो कार्यक्रम में मंच में नहीं बैठेंगे। उनके कार्यक्रमों के साथ नोट लगाकर एडवाइजरी भेजी जाएगी। दिग्विजय ने इसके साथ ही कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को भी एडवाइजरी जारी की है।

क्या है दिग्विजय की एडवाइजरी में?
कार्यक्रमों में मंच पर नहीं बैठेंगे। मंच पर सिर्फ संचालक रहेंगे। संचालक के आमंत्रित करने पर वक्ता मंच पर पहुंचेंगे। सम्मान समारोह में सम्मानित होने वाले और सम्मानित करने वालों को ही मंच पर बुलाया जाएगा।
स्वागत में फूल, माला और गुलदस्ते से न करें। स्वागत के लिए सूत की माला का प्रयोग किया जाए। सिर्फ एक ही व्यक्ति स्वागत करे। बैनर, पोस्टर और फ्लैक्स पर उनकी तस्वीर ना लगाए। ढोल, आतिशबाजी और पटाखों का प्रयोग न करें।
कार्यक्रम की शुरुआत गांधीजी के प्रिय भजन रघुपति राघव राजाराम के साथ ही की जाए। इसके बाद कार्यक्रम में उपस्थिति सभी लोग एक मिनट का मौन धारण करें फिर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की जाए।