जयपुर

राजस्थान के झालावाड़ में जुए की लत में फंसे एक शख्स ने अपने पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दिया. आरोपी का नाम शाकिर है. कर्ज में डूबे शाकिर ने अपने तीन बच्चों और पत्नी की हत्या करने के बाद फरार हो गया. वारदात झालावाड़ के ढाबला खींची इलाके की है. 45 साल के शाकिर ने अपने तीनों नाबालिग बच्चों और पत्नी की जहर देकर हत्या कर दी. इतना ही नहीं, जहर देने के बाद शाकिर ने रस्सी से गला घोटकर मार डाला.

शाकिर अपने एक रिश्तेदार के पास ढाबला खींची में ही किराए के मकान में रहता था. मकान में ही उसने एक किराने की दुकान खोल रखी थी जिसे अमूमन उसकी पत्नी चलाती थी. कुछ दिनों से शाकिर ने जुए की लत में फंसकर दुकान पर बैठना बंद कर दिया था. कर्ज के चक्कर में उसकी जमीन जायदाद और मकान सब बिक चुके थे.

बड़ी बेटी मुस्कान स्कूल में पढ़ाकर परिवार का खर्च चलाती थी. इसी बीच मंगलवार को जब सुबह 8:00 बजे तक शाकिर ने किराने की दुकान नहीं खुली तो पड़ोसियों ने घर के अंदर जाकर देखा तो तीनों बच्चों और पत्नी की लाश फर्श पर पड़ी मिली उनके मुंह से झाग निकल रहे थे. रिश्तेदारों ने पुलिस को मामले की सूचना दी जिसके बाद शवों का पोस्टमॉर्टम कराया गया. झालावाड़ के एसपी राममूर्ति जोशी ने बताया कि शाकिर की तलाश जारी है और पूछताछ में रिश्तेदारों ने बताया है कि वह जुए की बुरी लत में फंस गया था और कर्ज से परेशान था.