मॉस्को

रूस के एक शख्स ने दिग्गज टेक कंपनी ऐपल पर खुद को 'गे' बनाने का आरोप लगाते हुए मुकदमा कर दिया है। शख्स का कहना है कि आईफोन के एक ऐप ने उसे में बदल दिया, जिससे उसका आत्मविश्वास गिरा है। मॉस्को की अदालत में युवक की ओर से दर्ज कराए गए केस के मुताबिक उसने केस में 22,800 डॉलर के हर्जाने की मांग कंपनी से की है।

उसका दावा है कि इस साल की गर्मियों में उसने बिटकॉइन के लिए ऑर्डर दिया था, लेकिन ऐपल के ऐप से उसे 'गेकॉइन' की डिलिवरी की गई। युवक की वकील सपिहाट गुसनिएवा ने कहा कि यह मामला गंभीर है क्योंकि उनके क्लाइंट 'भयभीत और पीड़ित' हैं। युवक को मिली गेकॉइन क्रिप्टोकरंसी पर एक लाइन लिखी थी, जिसने उसके जीवन को पूरी तरह से बदल दिया।


उसने अपनी शिकायत में लिखा है कि गेकॉइन पर एक नोट लिखा था, 'ट्राई करने से पहले जज न करें।' उसने लिखा, 'यह पढ़ने के बाद मैंने सोचा कि बिना किसी को ट्राई कैसे किसी के बारे में जज कर सकता हूं? फिर मैंने समलैंगिक संबंधों को ट्राई किया।' पीड़ित युवक ने लिखा कि अब मेरे पास एक बॉयफ्रेंड है, लेकिन मुझे यह समझ नहीं आता कि मैं पैरेंट्स को इस बारे में कैसे बताऊं। मेरी जिंदगी बहुत बुरी तरह से बदली है और शायद अब कभी नॉर्मल नहीं हो सकेगी।