Close X
Thursday, August 16th, 2018

 गांवों को आदर्श, संस्कारवान और तनावमुक्त बनाने के लिए 'बाबाओं' की शरण में सरकार

 चंडीगढ़ 
गांवों को आदर्श, संस्कारवान और तनावमुक्त बनाने के लिए हरियाणा की बीजेपी सरकार ने अब 'बाबाओं' का रुख किया है। इसके तहत हरियाणा के विकास एवं पंचायत विभाग की तरफ से सोमवार को बकायदा एक विशेष कैंप का आयोजन किया गया। इसमें स्वामी ज्ञानानंद के प्रवचन को सुनने के लिए जिले के सभी सरपंच और पंचायत सचिवों की उपस्थिति अनिवार्य थी।  
 

इस कार्यक्रम को लेकर प्रशासनिक सजगता का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि भिवानी के जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी (डीडीपीओ) की तरफ से बकायदा 25 जुलाई को सभी ब्लॉक विकास एवं पंचायत अधिकारियों को यह सूचना भेजी गई थी कि वे कार्यक्रम के लिए सभी सरपंचों और पंचायत सचिवों की उपस्थिति सुनिश्चित करें। 

डीडीपीओ के पत्र में इस कार्यक्रम के पीछे के अजेंडा के बारे में भी जिक्र किया गया है। इसमें लिखा है, गांवों को आदर्श, संस्कारवान और तनावमुक्त बनाने का यह प्रयास है। इतना ही नहीं इस पत्र में धार्मिक गुरु को 'महामहिम' संबोधन से नवाजा गया है, जिसका प्रयोग राज्यों में केवल राज्यपाल के लिए किया जाता है। 

'गीता को हर घर तक पहुंचाएं' 
सरपंच और सरकारी अधिकारियों की मौजूदगी में अपने प्रवचन के दौरान स्वामी ज्ञानानंद ने कहा, 'भगवद गीता हमारे देश की धरोहर और संस्कृति है। इसे हर घर, हर व्यक्ति तक पहुंचाने की जरूरत है।' ज्ञानानंद ने कहा कि सिर्फ भगवद गीता के जरिए ही बच्चों में सांस्कृतिक मूल्यों को समाहित किया जा सकता है। 

'गाय, गंगा और गायत्री मंत्र का करें सम्मान' 
इस दौरान ज्ञानांद ने मौजूद सरपंच और सरकारी अधिकारियों से गीता के अलावा गाय, गंगा और गायत्री मंत्र का सम्मान करने की अपील की। इस दौरान उन्होंने लोगों को अगले कार्यक्रम के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कुरुक्षेत्र में युवा विराट चेतना उत्सव का आयोजन किया जाएगा। इसमें हर गांव से 5 युवाओं को चुनकर भेजा जाएगा। यहां युवाओं को देश के सांस्कृतिक मूल्यों के महत्व की जानकारी और उस पर चलने की सीख दी जाएगी। 

'गीता से दूर भाग रहे इसलिए असहिष्णुता' 
ज्ञानानंद ने कहा, 'असहिष्णुता, शारीरिक विकृतियां और अन्य समस्याएं इसलिए उत्पन्न हो रही हैं क्योंकि हम गीता से दूर भाग रहे हैं। धार्मिक ज्ञान की प्राप्ति में सिर्फ भगवद गीता ही सहायक है।'

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

14 + 6 =

पाठको की राय