रोहतक
हरियाणा में सत्ता में वापसी के अपने प्रयास में कांग्रेस ने आक्रमक रुख अपनाते हुए कहा कि प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार ने लोगों के साथ वादाखिलाफी की है। पार्टी ने कहा है कि राज्य में बेरोजगारी दर 28 प्रतिशत हो गई है जो अब तक का रिकार्ड है।
हरियाणा की 90 सीटों वाली विधानसभा के लिए 21 अक्टूबर को चुनाव होने हैं। 24 अक्टूबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे।

बता दें, जल्द ही अपने उम्मीदवारों की सूची जारी करने जा रही कांग्रेस ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह अपनी उम्मीदवारी के आवेदन पत्र में अपने सात्विक होने और खादी पहनने की जानकारी जरूर साझा करें।

पूर्व केंद्रीय मंत्री व हरियाणा कांग्रेस प्रमुख कुमारी शैलजा ने एक इंटरव्यू में कहा है कि हर चुनाव चुनौतीपूर्ण होता है और यह भी इससे अलग नहीं है।

शैलजा ने कहा कि- 2014 में भाजपा ने अपने घोषणापत्र में 154 वादे किए, लेकिन उनमें से एक भी पूरा नहीं किया। उन्होंने विवादास्पद मुद्दों को उठाया और यह भी नहीं देखा हरियाणा की जनता किस हाल में है।
उन्होंने कहा कि- वे असल मुद्दों से लोगों का ध्यान हटाना चाहते हैं और दूसरे मुद्दों को यह सोचकर सामने रखते हैं कि जनता उनपर भरोसा करेगी और उन्हें वोट देगी। लेकिन मुझे 100 प्रतिशत विश्वास है कि जनता भाजपा के झूठ को समझेगी और इस विधानसभा चुनाव में उन्हें अच्छा सबक सिखाएगी।

गौर हो, हरियाणा में कांग्रेस 2004 से 2014 तक सत्ता में रही थी, लेकिन 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में वह केवल 15 सीटें जीत पाई, जबकि भाजपा के खाते में 47 सीटें गईं।

बेरोजगारी को राज्य का सबसे बड़ा मुद्दा बताते हुए शैलजा ने कहा कि- मुझे यह बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि खट्टर सरकार के दौरान बेरोजगारी की दर 28 प्रतिशत पर पहुंच गई है जो देश में सर्वाधिक है। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 4 सितंबर को प्रदेश कांग्रेस की कमान कुमारी शैलजा को सौंपी थी। शैलजा ने भाजपा सरकार पर बदले की राजनीति करने का आरोप भी लगाया। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और पार्टी के वरिष्ठ नेता व विधायक कुलदीप सिंह बिश्नोई के खिलाफ 'जांच एजेंसियों के दुरुपयोग' का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि- आप देख सकते हैं वे कितने चुनिंदा हैं।
शैलजा ने कहा कि- वे कांग्रेस से डरते हैं, इसलिए हमारे नेताओं पर निशाना साध रहे हैं। आम जनता कांग्रेस के साथ है और भाजपा अब हमारे नेताओं पर निशाना साध रही है।

आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) जैसी एजेंसियों के 'दुरुपयोग' के लिए भाजपा की निंदा करते हुए शैलजा ने कहा कि- वह एजेंसियों का दुरुपयोग कर सकते हैं लेकिन अंत में देश के कानून की ही चलेगी। कांग्रेस नेता ने कहा कि लोग ना सिर्फ भाजपा की बदले की राजनीति को देख रहे हैं बल्कि यह भी देख रहे हैं कि कैसे भाजपा असल मुद्दों से देश का ध्यान भटकाती है।

उम्मीदवारी के आवेदन पत्र में अपने सात्विक होने और खादी पहनने की जानकारी को साझा करने के सवाल के जवाब में शैलजा ने कहा कि पार्टी के पुराने दिनों के समय से यह बात चली आ रही है। हम सभी महात्मा गांधी जी के शिष्य हैं।
उम्मीदवारों की सूची जारी करने के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि सूची जल्द जारी कर दी जाएगी। चुनाव की तारीख तय हो गई है, बहुत कम समय है, इसलिए हम जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी सूची जारी करने की कोशिश करेंगे।