नई दिल्ली
पति द्वारा पत्नी के कत्ल की एक वारदात ने राजधानीवासियों को दहला दिया है। इसमें पति को पत्नी के चरित्र पर शक था। इसे लेकर शनिवार रात को उसकी पत्नी से बहस हुई। फिर पति ने गला घोंटकर महिला की हत्या कर दी। फिर चापड़ से शव के 10-12 टुकड़े कर उन्हें सेप्टिक टैंक में डाल दिया और रविवार सुबह खुद थाने पहुंचकर गुनाह को कबूल किया।

थाने में पहले तो पुलिस ने समझा कि कोई नशेड़ी है, लेकिन जब युवक अपनी बात पर अड़ा रहा तो सिपाही को उसके घर भेजा गया। शव के टुकड़ों को बरामद करने के लिए पुलिस को घंटों मशक्कत करनी पड़ी।

वारदात आउटर दिल्ली के प्रेम नगर इलाके की है। 33 वर्षीय आशु हार्डवेयर इंजिनियर है। शुरुआती पूछताछ में उसने बताया कि उसे पत्नी सीमा (30) पर शक था। इसे लेकर घर में आए दिन झगड़े होते रहते थे। इससे परेशान होकर युवक की मां ने बेटे-बहू को अपने घर से निकाल दिया था। फिलहाल दोनों तीन बच्चों के साथ किराड़ी में किराए पर रहते थे।

शनिवार को आशु बहाने से सीमा को प्रेम नगर ले आया था। हत्या के बाद उसने सबसे पहले संगम विहार में अपनी सास को फोन किया। उन्होंने भी पहले मजाक समझा था, लेकिन जब बेटी का फोन नहीं लगा तो शक हुआ। जब तक वे लोग मौके पर पहुंचे आशु थाने जा चुका था।