नई दिल्ली 
प्रेमनगर में शनिवार रात हार्डवेयर इंजीनियर ने अवैध संबंध के शक में पत्नी की हत्या कर दी। आरोपी ने शव के दर्जनों टुकड़े कर घर में बने सेप्टिक टैंक और नाले में फेंक दिए। इसके बाद वह खुद ही रविवार तड़के प्रेम नगर थाने पहुंचा और पुलिस के सामने पत्नी की हत्या करने की बात कबूल कर ली।

पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर सेप्टिक टैंक से शव के कुछ हिस्से बरामद कर लिए, जबकि नाले में तलाश जारी है। आरोपी आशु प्रेमनगर पार्ट तीन में शनि बाजार रोड पर परिवार के साथ रहता था। कुछ दिन पहले सड़क बनने के कारण उसका घर सड़क से पांच फीट नीचे हो गया। इसके बाद आशु पत्नी और तीन बेटियों के साथ पास में ही किराए के मकान में रहने लगा। उसके माता-पिता और दो भाई भी आसपास में ही किराए पर रहने लगे। हालांकि, घर में इनका कुछ सामान रखा हुआ था।

डीसीपी एसडी मिश्रा के मुताबिक, आशु को शक था कि उसकी पत्नी के अवैध संबंध हैं। शनिवार को उसने पत्नी को ठिकाने लगाने की योजना बनाई और उसे अपने पुराने घर में ले गया। यहां उसने पत्नी की हत्या कर दी और शव के दर्जनभर टुकड़े कर दिए। उसने शव के कुछ टुकड़े घर में बने सेप्टिक टैंक में फेंक दिए और बाकी बैग में रखकर नाले में फेंक दिए। सुबह वह खुद ही थाने पहुंचा और घटना के बारे में पुलिस को जानकारी दी।

हरदोई का रहने वाला
आरोपी मूलरूप से यूपी के हरदोई का रहने वाला है और वह हार्डवेयर इंजीनियर है। वहीं, उसकी पत्नी दिल्ली के संगम विहार की रहने वाली थी। करीब दस साल पहले इनकी शादी हुई थी।  

दहेज हत्या का आरोप
महिला के घरवालों ने दहेज के लिए उसकी हत्या करने का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि आशु उनकी बेटी को दहेज के लिए परेशान करता था। वह मायके से सामान और नकदी मांगने को कहता था।

10:10 बजे शनिवार रात आरोपी ने वारदात की 
10:30 बजे शनिवार रात आरोपी ने सास को फोन किया 

अपनों के ही खून से रंगे हाथ
23 जून, 2019 : महरौली में पत्नी और तीन बच्चों का गला काटकर हत्या करने के बाद टीचर ने खुदकुशी का प्रयास किया
6 मई, 2019 : नरेला में पति ने पत्नी की हत्या की। आरोपी को पुलिस ने प्रयागराज से गिरफ्तार किया
9 मार्च, 2019 : निहाल विहार में शराब पीने को लेकर हुए झगड़े में 30 वर्षीय युवक ने पत्नी की हत्या कर दी 
19 सितंबर, 2017 : जामिया नगर इलाके में पिता ने बच्ची को नाले में फेंककर मार डाला, आरोपी गिरफ्तार  

‘मैंने तुम्हारी बेटी की हत्या कर दी ’
मारी गई महिला के भाई ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी आशु ने सास को फोन कर कहा कि मैंने तुम्हारी बेटी को मार डाला है। अब रोज-रोज की कहासुनी का किस्सा हमेशा के लिए खत्म हो गया। हालांकि, तब सास ने सोचा कि वह गुस्से में बोल रहा है।

बेरहम को कड़ी सजा मिले : परिजन
बेटी की बेरहमी से हत्या किए जाने को लेकर परिजनों ने कहा कि आरोपी को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। उसने  इतनी बेरहमी से उनकी बेटी को मारा है कि जिसका कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। इसके लिए उसे कड़ी से  कड़ी सजा मिलनी चाहिए।