जबलपुर
प्रदेश सरकार द्वारा किसानों और बाढ़ पीड़ितों को मुआवजा देने के लिए पेट्रोल-डीजल के दामों में 5 प्रतिशत वैट (VAT rate) की बढ़ोतरी की गई है. इसका भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) ने जमकर विरोध किया है. बढ़े हुए पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel price hike) के दामों के खिलाफ रविवार को भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने प्रदेशव्यापी आंदोलन किया. भाजयुमो के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे और बैलगाड़ियों के जरिए राज्य सरकार के ईंधन के दाम बढ़ाने के निर्णय का विरोध किया. राजधानी भोपाल के अलावा प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर में भी पेट्रोल-डीजल मूल्यवृद्धि के खिलाफ प्रदर्शन किया गया.

जबलपुर में भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने अनोखे अंदाज में ईंधन मूल्यवृद्धि के खिलाफ प्रदर्शन किया. भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने गढ़ा गुलौआ चौक पर बैलगाड़ी और ठेले पर बाइक रखकर रैली निकाली. रैली विभिन्न रास्तों से होकर गुजरी और इस दौरान भाजयुमो के कार्यकर्ता सरकार के निर्णय के प्रति आक्रोश जाहिर कर रहे थे. गढ़ा क्षेत्र में रैली ने जमकर नारेबाजी की और बढ़े हुए पेट्रोल डीजल के दामों से वैट तत्काल घटाने की मांग की.

भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे ने पेट्रो मूल्यवृद्धि पर कहा कि प्रदेश सरकार ने बाढ़ पीड़ितों और किसानों को मुआवजा देने के नाम पर वैट बढ़ाया है, जबकि इनके लिए सरकार के पास आपदा बजट होता है. लेकिन सरकार इस आपदा बजट के पैसों का इस्तेमाल करने के बजाय जनता पर बोझ डाल रही है. भाजयुमो ने चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने बढ़े हुए दाम फिर से वापस नहीं लिए तो भारतीय जनता युवा मोर्चा उग्र आंदोलन करेगा.

रैली के दौरान भारतीय जनता युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री कमलनाथ का पुतला भी जलाया. मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों ने जब सीएम का पुतला छीनने का प्रयास किया तो कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस की जमकर धक्का-मुक्की भी हुई. इस दौरान कार्यकर्ता और पुलिसकर्मी पुतले की आग से बाल-बाल बचे.