ग्वालियर
केंद्रीय भारी उद्योग राज्यमंत्री अर्जुन मेघवाल (Union Minister of State for Heavy Industries Arjun Meghwal) एक दिन के दौरे पर ग्वालियर पहुंचे. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि देश में किसी प्रकार की मंदी नहीं है, हम पांच ट्रिलियन इकोनॉमी (5 Trillion Economy) की तरफ बढ़ रहे हैं ऐसे में कुछ क्षेत्रों में परेशानियां आना स्वाभाविक है. यकीनन सभी परेशानियों को जल्द दूर कर लिया जाएगा. जबकि ऑटोमोबाइल सेक्टर (Automobile Sector) में आई मंदी पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि पेरिस एग्रीमेंट (Paris Agreement) के तहत कार्बन पर काबू करने के लिए इलेक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देना जरूरी है. इसलिए ऑटो सेक्टर में मंदी का कुछ असर दिख रहा है.

साथ ही उन्होंने कहा कि BS-4 से BS-6 में जा रहे हैं और इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल सेक्टर बढ़ रहा है. इस दौरान जो समस्याएं होंगी हमारी सरकार उनको दूर करने का प्रयास करेगी.

इसके साथ ही जब उनसे सवाल पूछा गया कि पिछले 15 साल में मध्य प्रदेश में कई इन्वेस्टर समिट हुए. इन इन्वेस्टर समिट में कई उद्योगपतियों से एमओयू भी साइन हुए, लेकिन इंडस्ट्रीज धरातल पर नहीं उतर सकी. इस पर उन्होंने कहा कि जहां-जहां बीजेपी की सरकारों के समय इन्वेस्टर समिट हुए हैं वहां-वहां दूसरी सरकारों की अपेक्षा सफलता अनुपात अधिक है. साथ ही उन्होंने कहा कि राष्ट्र समिट का उद्देश्य इन्वेस्टर्स का ध्यान अपने प्रदेश की ओर खींचना रहता है.

आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल अपने साथी और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की माताजी के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करने के लिए ग्वालियर पहुंचे हैं.