सेक्सी और परफेक्ट शेप वाले शोल्डर्स न सिर्फ अट्रैक्टिव लुक देते हैं बल्कि कोई भी आउटफिट पहनने पर परफेक्ट लुक आता है। शोल्डर यानी कंधे हमारे शरीर का एक जरूरी हिस्सा होते हैं। इनसे हमारी पर्सनैलिटी और भी निखरकर आती है। अक्सर ऐसा होता है कि एक्सर्साइज के दौरान हम कंधों के अलावा पेट, कमर और टांगों जैसे अन्य बॉडी पार्ट्स की टोनिंग और फिटनेस पर फोकस करते हैं। कंधों पर तो ध्यान जाता ही नहीं। नतीजा यह होता है कि उनमें अकड़न तो आ ही जाती है साथ ही वे परफेक्ट शेप में नहीं रह पाते। इसलिए जरूरी है कि अन्य बॉडी पार्ट्स के साथ-साथ कंधों की एक्सर्साइज पर भी फोकस किया जाए।

स्विमर्स
इस एक्सर्साइज को करने के लिए जमीन पर चटाई के बल लेट जाएं और हाथ में हल्के वजन के डम्बेल लेकर हाथों को कमर की सीध में कर लें। अब बाजुओं को सीधा रखते हुए डम्बेल पकड़े हुए बाजुओं को आगे की दिशा में लाएं। इस दौरान पैर एकदम सीधे रखें। इस प्रक्रिया को 5-10 बार करें। इस एक्सर्साइज में बाजू और हाथों का मूवमेंट 180 डिग्री होना चाहिए।

डम्बेल शोल्डर प्रेस
इस एक्सर्साइज के लिए हल्के वजन वाले डम्बेल हाथ में पकड़ें और उन्हें ऊपर की दिशा में ले जाएं। धीरे-धीरे वजन बढ़ाएं और एक्सर्साइज करें। इससे मांसपेशियां मजबूत होंगी और कंधों को शेप में लाने में भी मदद मिलेगी। लेकिन इस एक्सर्साइज को करते वक्त एक बात ध्यान रखें। जब भी डम्बेल उठाएं तो सिर को आगे की तरफ ले जाएं। इससे डम्बेल का पूरा भार छाती की मांसपेशियों पर पड़ने के बजाय कंधों पर पड़ेगा।

फ्रंट रेज़
इस एक्सर्साइज के दौरान एकदम सीधी अवस्था में खड़े हो जाएं। हाथों में डम्बेल पकड़ें और बाजुओं को सीधा रखते हुए आगे की तरफ ले जाएं। आगे की दिशा में भी बाजुओं को कंधों की सीध में ही रखें। इस तरह इस प्रक्रिया को 10 से 15 बार दोहराएं। शुरुआत हल्के वजन के साथ ही करें और फिर धीरे-धीरे वजन बढ़ाएं।


डिसक्लेमर: कंधों के लिए ये एक्सर्साइज किसी जिम ट्रेनर या एक्सपर्ट की देखरेख में ही करें। किसी भी तरह का भार उठाने से पहले अपना मेडिकल टेस्ट करा लें। अगर सांस की बीमारी है या फिर शुगर के मरीज हैं तो इन एक्सर्साइज को बिल्कुल भी न करें।