नई दिल्ली 

झारखंड में बच्चा चोरी की अफवाह पर होने वाली हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही है. बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने 70 साल के एक बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या कर दी. ताजा मामला साहिबगंज जिले के मिर्जाचौकी थाना क्षेत्र का है. यहां तेतरिया गांव में एक बुजुर्ग को लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला.

बुधवार को लगभग 2:00 बजे दिन में लोगों ने बच्चा चोरी के शक में बुजुर्ग को पकड़ लिया. बुजुर्ग व्हिच पानी पहाड़ पर जड़ी बूटी की तलाश में गया था. वहां पर बच्चे भी खेल रहे थे जिनसे बुजुर्ग कुछ बातचीत करने लगे. इतने में ही वहां पर ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठा हो गई और बच्चा चोर समझकर बुजुर्ग की पीट-पीटकर कर हत्या कर दी.
बताया जाता है कि बुजुर्ग पहाड़ पर जड़ी बूटी खोजने हमेशा जाया करते थे. स्थानीय लोगों के मुताबिक वह कभी-कभार तेतरिया गांव के पास स्थित पहाड़ से जड़ी-बूटी चुनकर लाते थे. अभी तक मृतक की पहचान नहीं हो पाई है. पुलिस पहचान करने में जुटी है.

भीड़ ने बेरहमी से शख्स की पिटाई कर दी. हालांकि गांव के ग्राम प्रधान ने घायल अवस्था में उन्हें इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मिर्जाचौकी लाने का प्रयास किया लेकिन बुजुर्ग ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचगई. वहीं कुछ लोगों को कहना है कि बुजुर्ग शख्स बिहार के बांका जिले के घोघा इलाके के रहने वाले थे.

सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक एसपी जनार्दन खुद घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की छानबीन की. उन्होंने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि बुजुर्ग की पीट-पीटकर हत्या की गई है. उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भी साहिबगंज भेज दिया है.