उरई 
उत्तर प्रदेश के उरई शहर के बाहर बड़ा गांव हाईवे पर मंगलवार दोपहर स्कार्पियो सवार ड्राइवर की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या करने वालों ने उसकी लाश को ड्राइविंग सीट से घसीट कर पीछे की तरफ डाल दिया और मौके से भाग निकले। काफी देर लावारिस हालत में खड़ी स्कॉर्पियो देखकर लोगों ने मामले खबर पुलिस को दी। सीओ सिटी व अपर पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू कर दी गई है। मृतक ड्राइवर के बारे में बताया जा रहा है कि वह जालौन से बुकिंग की सवारी लेकर झांसी जा रहा था।

जालौन के मोहल्ला चुर्खी रोड निवासी छोटे उर्फ महेंद्र 40 वर्ष पुत्र रामसहाय गाड़ी बुकिंग का काम करता था। इन दोनों वह स्कॉर्पियो चला रहा था और मंगलवार दोपहर करीब 12:00 बजे वह जालौन से बुकिंग की सवारी लेकर झांसी की ओर जा रहा था। इस दौरान जैसे ही वह उरई शहर से निकलकर बड़ा गांव हाईवे पर पहुंचा तभी उसकी हाईवे पर ही गोली मारकर हत्या कर दी गई। इतना ही नहीं हत्यारों ने ड्राइविंग सीट से उसकी लाश को घसीट कर पीछे की ओर डाल दिया और उसके चेहरे पर कपड़ा डाल दिया। काफी देर लावारिस हालत में खड़ी स्कॉर्पियो को देखकर कुछ लोग वहां रुके तो पीछे की सीट पर खून में लथपथ पड़े युवक को देखकर हड़कंप मच गया।

मामले खबर पुलिस को दी गई तो कोतवाली पुलिस शहीद सीओ सिटी संतोष कुमार व अपर पुलिस अधीक्षक डॉ अवधेश सिंह मौके पर पहुंचे। पुलिस को गाड़ी से कुछ दूरी पर 315 बोर का कारतूस मिला है। पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है फिलहाल हत्या की वजह और हत्यारों का पता नहीं चला है। माना जा रहा है कि बुकिंग करने वालों से हीं ड्राइवर का विवाद हुआ और वी लोग हत्या कर वहां से फरार हो गए।