ह्यूस्टन

    अमेरिका में Howdy Modi कार्यक्रम 22 सितंबर को आयोजित होगा कार्यक्रम में मोदी-ट्रंप की साझा रैली से भारत-अमेरिका के रिश्ते मजबूत होंगे कार्यक्रम में 50 हजार से ज्यादा लोगों के हिस्सा लेने की संभावना है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अमेरिका के ह्यूस्टन में एक बड़ा कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. इस कार्यक्रम में 50 हजार से ज्यादा लोगों के हिस्सा लेने की संभावना है. "Howdy Modi" कार्यक्रम 22 सितंबर को आयोजित होगा और इसमें अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शामिल होंगे.

व्हाइट हाउस ने डोनाल्ड ट्रंप के कार्यक्रम में शामिल होने की पुष्टि कर दी है. इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है जब दो ताकतवर देशों के प्रमुख एक मंच पर साथ आएंगे. बता दें कि इस कार्यक्रम के लिए 50 हजार लोग रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं, जबकि 8 हजार लोग वेटिंग लिस्ट में हैं.

व्हाइट हाउस प्रेस सेक्रेटरी स्टेफिनी ग्रिशेम ने बयान जारी कर कहा कि मोदी-ट्रंप की साझा रैली से भारत और अमेरिका के रिश्ते और मजबूत होंगे. पहली बार होगा जब हजारों अमेरिकी और भारतीय एक ही जगह पर एक साथ होंगे. वहीं अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप का इस इवेंट में शामिल होना ऐतिहासिक है. यह भारत और अमेरिका की मजबूत दोस्ती के रिश्ते को बयां करता है.

'Howdy Modi' पोप के बाद अमेरिका में किसी विदेशी लीडर के लिए आयोजित होने वाला सबसे बड़ा कार्यक्रम होने जा रहा है. 22 सितंबर को अमेरिका के टेक्सास के ह्यूस्टन में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. इसमें 50 से ज्यादा अमेरिकी सांसद भी शामिल हो सकते हैं. पीएम नरेंद्र मोदी के दोबारा से जीतकर सत्ता में आने के बाद अमेरिका में यह पहला कार्यक्रम हैं.

इससे पहले पीएम मोदी के लिए मैडिसन स्क्वायर गार्डन और कैलिफोर्निया के सिलिकॉन वैली कार्यक्रम आयोजित किया गया था. मैडिसन स्क्वायर गार्डन और सिलिकॉन वैली में जितने लोग जुटे थे 'Howdy Modi' कार्यक्रम में  उससे दोगुने लोग शामिल हो रहे हैं.

पीएम मोदी के लिए सिलिकॉन वैली में आयोजित कार्यक्रम में 20 हजार लोग शामिल हुए थे. ह्यूस्टन में आयोजित 'Howdy Modi' कार्यक्रम का थीम 'शेयर्ड ड्रीम्स एंड ब्राइट फ्यूचर: इंडिया अमेरिका स्टोरी' है.