जशपुर
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के जशपुर (Jashpur) जिले में झोलाछाप डॉक्टर (Docter) खूब फल फूल रहे हैं. ग्रामीण व आदिवासियों को ये अपनी दी दवाई से ठीक करने का दावा कर मोटी रकम कमाते हैं. कई बार इनके चक्कर में पड़कर मरीजों की जान तक चली जाती है. लगातार शिकायत के बाद प्रशासन ने ऐसे ही कुछ झोलाछाप डॉक्टर्स की क्लिनिक पर दबिश दी और वहां ताला लगवाया. इसके अलावा उनपर कानूनी कार्रवाई करने की तैयारी भी प्रशासन द्वारा की जा रही है.

जशपुर (Jashpur) में इन दिनों सैकड़ो झोलाछाप डॉक्टर सक्रिय हैं, जो अवैध रूप से क्लिनिक खोलकर मरीजों की जान से खिलवाड़ कर रहे हैं. ऐसे ही झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी गई है. जशपुर के फरसाबहार एसडीएम (SDM) ने ऐसे झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई की है. फरसाबहार क्षेत्र के पांच अवैध क्लिनिकों पर प्रशासन ने दबिश देकर सभी अवैध क्लीनिकों को सील कर दिया है. साथ ही इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की तैयारी भी प्रशासन कर रहा है. इसके लिए कानूनी जानकारों की मदद ली जा सकती है.

जशपुर के फरसाबहार के तहसीलदार लक्ष्मण राठिया का कहना है कि बिना डिग्री के ये झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की जान से खिलवाड़ कर रहे थे. झोलाछाप डॉक्टरों के ख़िलाफ शिकायत के आधार पर कार्रवाई की गई है. दूसरे क्षेत्रों में भी इस तरह के डॉक्टर सक्रिय हैं, जिनके खिलाफ आगे भी अभियान छेड़कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.