मांडले (म्यामां)

भारत के स्टार क्यू खिलाड़ी पंकज आडवाणी ने रविवार को म्यामां के मांडले में '150-अप' प्रारूप में लगातार चौथे आईबीएसएफ विश्व बिलियर्ड्स खिताब के साथ अपने करियर का 22वां विश्व खिताब जीता. बिलियर्ड्स के छोटे प्रारूप में यह 34 साल के आडवाणी का पिछले छह साल में पांचवां खिताब है.

पिछले साल की तरह इस साल भी आडवाणी ने फाइनल में स्थानीय दावेदार नेम थ्वाय ओ के खिलाफ 6-2 से आसान जीत दर्ज की. आडवाणी ने मुकाबले की शानदार शुरुआत की और 145, 89 और 127 के ब्रेक के साथ जल्द ही 3-0 की बढ़त बना ली.

थ्वाय ओ ने 63 और 62 के ब्रेक के साथ अगला फ्रेम जीता. आडवाणी ने इसके बाद 150 के अटूट ब्रेक और 74 के ब्रेक के साथ आसानी से मुकाबला जीत लिया, जिससे थ्वाय ओ में लगातार दूसरे साल रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

बेंगलुरु के आडवाणी से अधिक विश्व क्यू खिताब किसी खिलाड़ी ने नहीं जीते हैं. आडवाणी ने 22वां विश्व खिताब जीतने के बाद कहा, ‘प्रत्येक बार मैं जब भी विश्व चैम्पियनशिप में हिस्सा लेता हूं, एक चीज स्पष्ट होती है- मेरी प्रेरणा में कोई कमी नहीं होती. यह जीत इस बात का सबूत है कि मेरी भूख और मेरे अंदर की आग बरकरार है.’

आडवाणी को 24 घंटे के भीतर स्नूकर में लय हासिल करनी होगी, क्योंकि उन्हें आईबीएसएफ विश्व 6 रेड स्नूकर और विश्व टीम स्नूकर चैम्पियनशिप में हिस्सा लेना है.