Monday, September 24th, 2018

बाॅल टेंपरिंग मामले में आईसीसी ने चांडीमल को दिया करारा झटका

गाले
 श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांडीमल और उसके दो क्रिकेट अधिकारी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ गुरूवार से शुरू हुई दो टेस्ट मैचों की सीरीज में हिस्सा नहीं लेंगे। सभी को आईसीसी ने गत माह वेस्टइंडीज दौरे पर खेल भावना का उल्लंघन करने का दोषी ठहराया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद(आईसीसी) ने गुरूवार को इसकी जानकारी दी कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ गाले में पहले टेस्ट से पूर्व रातभर चली न्यायिक आयोग की बैठक में श्रीलंकाई कप्तान और उसके अधिकारियों को गत माह वेस्टइंडीज दौरे में बॉल टेंपरिंग प्रकरण के बाद सजा के खिलाफ बहस करने और खेल भावना का उल्लंघन करने के मामले में दोषी पाया गया है।  

कप्तान चांडीमल के अलावा दो श्रीलंकाई क्रिकेट अधिकारियों में कोच चंडिका हथरूसिंघा और मैनेजर असांका गुरूसिन्हा को वेस्टइंडीका और श्रीलंका के बीच दूसरे टेस्ट के दौरान खेल भावना का उल्लंघन करने के मामले में दोषी पाया गया है। ऐसे में तीनों को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ गाले में गुरूवार से शुरू हुयी दो टेस्टों की सीरीज में हिस्सा लेने की अनुमति नहीं होगी। आईसीसी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कहा, ''अंतरिम जांच में चांडीमल, हथरूसिंघा और गुरूसिन्हा को दोषी पाया गया है, सभी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दोनों टेस्टों से बाहर बैठने पर सहमति जताई है। इसे आईसीसी के क्रिकेट आयुक्त द्वारा इन्हें दी गयी सजा में गिना जाएगा।''

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड रिचर्डसन ने तीनों को आरोपी ठहराया था। श्रीलंका और वेस्टइंडीज के बीच हुई टेस्ट सीरीज के सेंट लुसिया में दूसरे मैच के तीसरे दिन गेंद के साथ छेड़छाड़ मामले में चांडीमल को आरोपी पाया गया था। इसके अगले दिन विपक्षी वेस्टइंडीज टीम को पांच रन अतिरिक्त दिए गए थे। श्रीलंकाई टीम ने इस फैसले का विरोध किया था और मैच के लिए मैदान पर आने से इंकार कर दिया था, जिससे हुई बहस से मैच दो घंटे देरी से शुरू हो सका था। चांडीमल ने बॉल टेंपरिंग के आरोपों से इंकार किया था लेकिन उनकी अपील खारिज होने के कारण उनपर एक मैच का प्रतिबंध और मैच फीस का जुर्माना लगाया गया था। मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ ने चांडीमल को यह सजा सुनाई थी जिसे बाद में आईसीसी ने बरकरार रखा था।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

14 + 5 =

पाठको की राय