Friday, July 20th, 2018

कमलनाथ के क्षेत्र में अमेरिका जैसी सड़क बनाने वाले इंजीनियर पर कार्रवाई

भोपाल
 छिंदवाड़ा की सड़कों को अमेरिका जैसा बताने संबंधी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के नौ जुलाई के बयान के बाद लोक निर्माण विभाग ने सड़कें बनवाने वाले कार्यपालन यंत्री हृदेश आर्य की तीन वेतनवृद्धि (इंक्रीमेंट) रोक दीं। हालांकि, 9 जुलाई को ही की गई कार्रवाई का कारण प्रमुख सचिव मोहम्मद सुलेमान ने टारगेट पूरा न करना और परफारमेंस कमजोर होना बताया है।

यातायात का दबाव कम, फिर भी बना दी अच्छी सड़क

वभाग और राजनीतिक हलकों में कमलनाथ के बयान व इंजीनियर पर कार्रवाई की चर्चा सुर्खियों में है। कार्यपालन यंत्री पर कार्रवाई के पीछे एक तथ्य यह भी बताया जा रहा है कि उनके इलाके में एक सड़क ऐसी जगह बना दी गई, जहां यातायात का दबाव तुलनात्मक रूप से कम पाया गया।

आदेश पहले दे दिए नियम बाद में देखा

प्रमुख सचिव ने चार वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश दिए थे। जब स्पष्ट हुआ कि तकनीकी रूप से तीन वेतनवृद्धि ही रोकी जा सकती हैं। इसके बाद आदेश बदला गया।

उखड़ी सड़कें बनीं फांस

प्रदेश में विधानसभा चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। निर्माण कार्य के लिए बमुश्किल चार माह बाकी हैं। ज्यादातर जिलों में मानसून रफ्तार पकड़ चुका है, ऐसे में उखड़ी सड़कों की मरम्मत समय पर न हो पाना सरकार के गले की फांस बन रहा है। इस बीच सड़क के मुद्दे पर कमलनाथ ने छिंदवाड़ा की सड़कों की तुलना अमेरिका की सड़कों से कर दी थी। इसी दौरान कामकाज की समीक्षा में इंजीनियरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई को इस मामले से जोड़कर देखा जाने लगा है।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

8 + 13 =

पाठको की राय