Friday, September 21st, 2018

मुंबई के बाद अब दिल्ली में जलभराव का संकट!

नई दिल्ली
मॉनसून के देश में दस्तक तो दे दी है लेकिन राजधानी को अब भी सुकून भरी बारिश का इंतजार है. इस बीच मुंबई में जिस तरह बारिश ने आम लोगों की मुश्किलें बढ़ाई हैं ठीक उसी तरह दिल्ली में जलभराव का संकट देखने मिल सकता है. नालों की पूरी तरह सफाई न होना इसकी एक बड़ी वजह बन सकती है. दिल्ली सरकार के पीडब्ल्यूडी विभाग ने जलभराव की शिकायतों से निपटने के लिए 24 घंटे का कंट्रोल रूम तैयार किया है. जलभराव की शिकायत के लिए टोल फ्री नंबर 1800-11-0093 और व्हॉट्सऐप नंबर 8130188222 जारी किए गए हैं. साथ ही तमाम एजेंसियों को मैनपावर और मशीनरी के साथ पूरी तरह तैयार रहने के आदेश जारी हुए हैं.

पिछले दिनों अरविंद केजरीवाल ने साउथ दिल्ली के अंबेडकर नगर में नालों का दौरा किया था. साथ में डिप्टी सीएम और मंत्री सत्येंद्र जैन भी मौजूद थे. 3 नालों के निरीक्षण के बाद भारी गड़बड़ी सामने आई थी. दावों के मुताबिक नालों की सफाई नहीं की गई, जिसके बाद 2 इंजीनियरों को सस्पेंड भी किया गया. इस मामले से पूरी दिल्ली के नालों की सफाई का अंदाजा लगाया जा सकता है, जो बारिश के बाद एक बड़े जलभराव की वजह भी बन सकता है. हाल ही में दिल्ली सरकार के पीडब्ल्यूडी विभाग ने जलभराव की स्थिति से निपटने के लिए एक बड़ी बैठक की है. इस बैठक में पीडब्ल्यूडी, दिल्ली जल बोर्ड, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस, दिल्ली छावनी बोर्ड, दिल्ली राज्य औद्योगिक और बुनियादी ढांचा विकास निगम (DSIIDC), नई दिल्ली निगम के साथ- साथ तीनों एमसीडी के अधिकारी मौजूद थे. इस दौरान हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए और पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को आदेश दिया गया कि जलभराव से जुड़ी शिकायत मिलने पर तुरंत संबंधित एजेंसियों को जानकारी दी जाए.

दिल्ली सरकार के पीडब्ल्यूडी विभाग ने एक मॉनसून कंट्रोल रूम भी तैयार किया है. इस कंट्रोल रूम के लिए 1800-11-0093 टोल फ्री नंबर होगा. साथ ही सड़कों पर जलभराव के लिए एक अन्य टोल फ्री नंबर 1800-11-8595 पर कॉल किया जा सकता है. इसके अलावा दिल्ली वालों के लिए एक ईमेल आईडी monsoondelhi2018@gmail.com भी जारी की गई है. हालांकि दिल्ली को झमाझम बारिश का अब भी इंतजार है. उम्मीद की जा रही है कि जलभराव को लेकर की जा रही तैयारी असरदार साबित होंगी.
 

Source : agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

1 + 14 =

पाठको की राय