Close X
Tuesday, November 20th, 2018

मॉनसून सत्र से पहले सुमित्रा महाजन की अपील- बचे हैं सिर्फ 3 सत्र, सहयोग करें सांसद

नई दिल्ली
हंगामें की भेंट चढ़ चुके संसद के पिछले कुछ सत्रों पर चिंता व्यक्त करते हुए लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन नें मॉनसून सत्र शुरू होने से ठीक पहले सांसदों को पत्र लिखकर संसद में सुचारू रूप से कामकाज सुनिश्चित करने में सहयोग करने की अपील की है.

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा है कि 16वीं लोकसभा के अब तीन सत्र ही शेष हैं, इसलिए खास तौर पर मॉनसून सत्र और शीतकालीन सत्र के दौरान सदस्यों को यह समय ज्यादा से ज्यादा कामकाज में परिवर्तित करना चाहिए. महाजन का कहना है कि लोकसभा अध्यक्ष के तौर पर वे उम्मीद करती हैं कि संसद सदस्य अपने कार्यों का कुशलता के साथ निर्वहन करेंगे, क्योंकि आप इस देश की सबसे बड़ी पंचायत लोकसभा के सदस्य हैं.

सुमित्रा महाजन नें अपने पत्र में बजट सत्र के दौरान सदन में व्यवधान का उल्लेख करते हुए कहा है कि वैसे तो विचार-विमर्श और बहस लोकतंत्र का अहम हिस्सा हैं लेकिन आप इस बात को भी मानेंगे कि असहमति और विचारों की अभिव्यक्ति शालीनता और शिष्टाचार के दायरे में होनी चाहिए. जिससे लोकतंत्र के प्रति लोगों की आस्था बनी रहे. महाजन नें अपने विदेश दौरों का ज़िक्र करते हुए कहा है कि उनके कुछ मेज़बान और प्रवासी भारतीयों ने  हाल के दिनों में संसदीय कार्यवाही में लगातार व्यवधान उत्पन्न होने की घटनाओं पर चिंता व्यक्त की है.

गौरतलब है कि आगामी मॉनसून सत्र में दोनों सदनों में कई महत्वपूर्ण बिल लंबित हैं. ऐसे में विपक्षी दलों से सरयोग की इच्छा रखते हुए संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार नें 17 जुलाई को ऑल पार्टी मीटिंग बुलाई है जिसमें प्रधानमंत्री भी शामिल होंगे. इस बैठक के बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के घर रात्रि भोज का आयोजन है जिसमें सभी दलों के साथ प्रधानमंत्री भी शामिल होंगे. संसद का मॉनसून सत्र 18 जुलाई से 10 अगस्त तक चलेगा.

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

2 + 1 =

पाठको की राय