आत्‍मविश्‍वास को लेकर जीवन में उतार-चढ़ाव आता रहता है। किसी दिन लगता है कि आप दुनिया जीत सकते हैं तो किसी दिन 'दुनिया में आए हैं तो जीना ही पड़ेगा’ जैसा एहसास आता है। किशोरावस्‍था से लेकर 20 की शुरुआती उम्र तक जवानी की थोड़ी-बहुत झलक तो मिल ही जाती है। इस उम्र में खुद से प्‍यार करना और जो हैं जैसे हैं, वैसे ही खुश रहना सीखते हैं।

कब रहता है सबसे ज्‍यादा आत्‍मविश्‍वास
साइकोलॉजिक बुलेटिन में प्रकाशित हुई रिपोर्ट के अनुसार एक विशेष उम्र होती है जिसमें कॉन्फिडेंस लेवल सबसे ज्‍यादा रहता है। इस रिसर्च में 191 अध्‍ययनों के जरिए यह जानने की कोशिश की गई है कि कैसे उम्रभर आत्‍मविश्‍वास में बदलाव आता है। ऐसा पाया गया कि आत्‍म-सम्‍मान के स्‍तर में अपने आप ही उतार-चढ़ाव आता है। इस रिसर्च की कुछ खास बातें:

11 से 15 साल की उम्र में आत्‍म विश्‍वास बढ़ना बंद हो जाता है।

युवा वयस्‍क की उम्र में तेजी से आत्‍मविश्‍वास बढ़ता है।

किशोरावस्‍था में ये काफी ऊंचाई पर जा सकता है लेकिन कम नहीं होता है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि एक इंसान को अपने ऊपर सबसे ज्‍यादा विश्‍वास 60 की उम्र से 70 तक रहता है। हालांकि, कुछ लोग 90 की उम्र में भी कॉन्फिडेंट महसूस करते हैं।


इस रिसर्च का कहना है कि हमारी जिंदगी में हमेशा सबसे बेहतर भविष्‍य में छिपा होता है। कई लोगों को लगता है कि 20 प्‍लस में लोगों को सबसे ज्‍यादा कॉन्फिडेंट महसूस होता है। वहीं 60 की उम्र तक आते-आते आपका आत्‍मविश्‍वास इसलिए सबसे ज्‍यादा रहता है क्‍योंकि आपको इस बात की चिंता नहीं रहती कि दूसरे आपके बारे में क्‍या सोचते हैं।