Friday, July 20th, 2018

अब बच्चों संग एक्सर्साइज का ट्रेंड


हाल ही में मां बनी महिलाओं के लिए वजन घटाना किसी चुनौती से कम नहीं होता। सबसे बड़ी परेशानी तो यह होती है कि अगर मां जिम जॉइन कर भी ले, तो बच्चे को अकेला छोड़ना पड़ता है। लेकिन अब मांओं ने इसका हल निकाल लिया है। आजकल एक नया ट्रेंड देखने को मिल रहा है जिसमें नई मांएं बच्चों के साथ एक्सर्साइज कर रही हैं। रिसर्च बताते हैं कि एक्सर्साइज करते समय बच्चे को अपने पास रखने से उसके सीखने की क्षमता और तेज होती है। हालांकि इस दौरान कई सा‌वधानियां बरतनी पड़ती है। हम आपको बता रहे हैं उन 6 एक्सर्साइजेज के बारे में जो मां और बेबी दोनों के लिए फायदेमंद हैं...

साइड लंज
• दोनों पैरों को अलग करके खड़े हो जाएं। बेबी का चेहरा आपकी तरफ होना चाहिए। • दाएं या बाएं, किसी एक तरफ कदम बढ़ाएं और शरीर का सारा वजन उसी पर पर डाल दें। • अब वापस शुरुआती अवस्था में आएं • अब दूसरी तरफ घूमें और वही क्रिया दोहराएं। • यही क्रिया 10-12 बार दोहराएं

ऐब्डॉमिनल कर्ल
• फर्श पर लेट जाएं और अपने घुटने को मोड़ लें। बच्चे को अपने घुटनों के सहारे लिटाएं। • सिर, गर्दन और कंधे को फर्श से ऊपर उठाएं और मुंह से सांस छोड़ें। • अब सांस छोड़ें और प्रारम्भिक अवस्था में आ जाएं। • इसे 15-20 बार दोहराएं

चेस्ट प्रेस
• फर्श पर लेट जाएं और अपने घुटने को मोड़ लें। बेबी को अपने सीने पर बिठाएं और उसे कंधों के नीचे से पकड़कर रखें। • बेबी को सीधे पकड़कर रखें। न अपनी गर्दन को उठाएं और न ही कोहनी मोड़ें। • बेबी को किसिंग पोजिशन में अपने चेहरे के पास लेकर आएं। • फिर वापस प्रारम्भिक अवस्था में आ जाएं। इस क्रिया को 10-12 बार दोहराएं।

स्क्वॉट्स
बेबी के साथ वर्क आउट करना तब और प्रभावी हो जाता है, जब बच्चे का वजन डंबल या एक्सर्साइज बॉल के बराबर हो। स्क्वॉट्स नई बनी मांओं के लिए बहुत लाभदायक है। • कंधे चौड़े करके पैरों पर सीधे खड़े हो जाइए। • बेबी का चेहरा अपनी तरफ करके रखें। • एक हाथ बेबी के नीचे और एक हाथ से बेबी के गर्दन को सहारा दें। • खुद को इस प्रकार से झुकाएं जैसे आप पीछे रखे किसी स्टूल पर बैठने की कोशिश कर रहे हों। ध्यान रखें, इतना न झुकें कि घुटने पैरों की उंगलियों को क्रॉस कर जाएं। • खुद को जितना नीचे झुकाएं, बेबी को उतना ही ऊपर ले जाएं। • प्रारम्भिक अवस्था में वापस आ जाएं। अब इसे 10-12 बार दोहराएं।

नवासन
यह एक्सर्साइज नई बनी मांओं को कोर मजबूती प्रदान करता है। • योगा मैट पर बैठ जाएं और अपने घुटनों को मोड़ लें। • बेबी को अपनी ऊपरी जांघ या पेट पर बिठाएं। • पीछे की तरफ झुकें और पैरों को ऊपर की ओर उठाइए। • अब आपके पैरों की उंगलियां और सिर एक सीध में होंगे। • 15 की गिनती तक इसी पोजिशन में रहें।

हेवी वर्कआउट है प्लैंक
अपने वर्क आउट में कुछ हार्ड ट्राई करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए यह एक्सर्साइज बेस्ट है। इसे आप तब ट्राई कर सकते हैं जब आपके बेबी की उम्र एक साल हो जाए। • कोहनियों और पैर की उंगलियों के सहारे फर्श पर लेट जाएं। • कोहनियों के बल पर शरीर कऊपर की तरफ लेकर जाएं। • ध्यान रखें कि कोहनी और कंधे एक सीध में ही होने चाहिए। • गर्दन और रीढ़ को सामान्य अवस्था में रखें। • सिर से पैर तक एक सीधी लाइन बना लें। • इस अवस्था में आप जब तक रूक सकते हैं, तब तक रूके रहें। अब वापस प्रारम्भिक अवस्था में आ जाएं।

जरूर लें डॉक्टर की सलाह
इन एक्सर्साइजेज को करने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए: • बेबी के तीन महीने पूरे होने के बाद ही इन एक्सर्साइज को करने की कोशिश करें। • अपने बच्चे के साथ एक्सर्साइज शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। वरना आपको सिरदर्द और हड्डी से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। • अगर आप कोई एक्सर्साइज करने जा रही हैं जिसमें बच्चे को बिठाने की जरूरत है, तो उसे बच्चे की उम्र पांच महीने की होने के बाद ही करें।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

6 + 15 =

पाठको की राय