जयपुर

जयपुर में एक बार फिर एक महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. जहां कुछ लोगों ने मजदूर महिला को काम दिलाने के बहाने साथ ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया. आरोपियों ने महिला का दुष्कर्म करने के बाद उसे पैसे देकर चुप कराने की कोशिश की. महिला ने वापस आकर पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई. हालांकि जिसके बाद पुलिस ने तीनों ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है .

डीसीपी योगेश दाधीच ने बताया कि 6 सितंबर को एक महिला काम की तलाश में प्रताप नगर बस स्टैंड के पास बैठी हुई थी.  इस बस स्टैंड पर सुबह सुबह मजदूर काम की तलाश में बैठे रहते हैं और जिन लोगों को काम कराना है वह अपनी गाड़ियों से ले जाते हैं. उस दिन राधेश्याम नाम का व्यक्ति एक मजदूर महिला शलगामपुरा गांव में काम कराने के लिए ले गया था.

मजदूर महिला के साथ वहां पर तीन लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया और विरोध करने पर उसकी पिटाई की. इन लोगों ने बलात्कार करने के बाद महिला को पैसे देकर चुप करने की भी कोशिश की. महिला ने अपने घर वापस आने के बाद शिवदासपुरा थाने में पुलिस में शिकायत की. उसके बाद चाकसू थाने के प्रभारी के नेतृत्व में पुलिसकर्मियों की एक टीम बनाई गई और बलात्कारियों की खोज शुरू की गई. पुलिस ने आरोपी राकेश यादव भीम सिंह और आरोपी चंद्र प्रकाश शर्मा को गिरफ्तार किया गया है. उसके साथ ही महिला का मेडिकल टेस्ट करवाकर बयान दर्ज करवा लिया गया है.