Friday, July 20th, 2018

19 साल बाद 30 दिनों का सावन का महीना, 30 जुलाई को पहला सोमवार

इस साल सावन महीने का लोगों को थोड़ा ज्यादा इंतजार करना होगा। अधिमास के कारण इस बार सावन 18 दिन लेट से 28 जुलाई से शुरू होगा। हालांकि अच्छी बात यह है कि इस बार सावन पूरे 30 दिन का रहेगा। इसका समापन 26 अगस्त को रक्षाबंधन के पर्व के साथ होगा।

हालांकि यह श्रावण मास की तिथि 27 जुलाई को ही लग जाएगी लेकिन इसे उदया तिथि से ही शुरू माना जाएगा। इसलिए इसकी शुरुआत 28 जुलाई से ही मानी जाएगी। इस बार सावन में चार सोमवार होंगे। पहला सावन का सोमवार 30 जुलाई 2018 को पड़ेगा।

इस मौके पर हम आपको कुछ ऐसी चीजें बात रहे है जो भगवान शिव को बेहद प्रिय हैं, अगर इस सावन में आप घर पर ये चीजें लेकर आते है तो निश्चित रूप से शिव की कृपा मिलेगी।

19 साल बाद बन रहा है दुलर्भ संयोग

इस साल का सावन का महीना बहुत खास रहने वाला है क्योंकि 19 साल बाद एक दुर्लभ संयोग बना है। इस बार सावन का महीना 28 या 29 दिनों का नहीं रहेगा बल्कि पूरे 30 दिनों तक चलेगा। ऐसा संयोग 19 साल बाद बन रहा है। दरअसल इस बार का सावन 30 दिनों का होने के पीछे अधिकमास पड़ने के कारण हुआ है।


भस्‍म

पहले सोमवार को या किसी भी सावन के सोमवार को शिव मूर्ति के साथ यदि भस्म रखते हैं तो शिव कृपा मिलेगी।

रुद्राक्ष

ऐसी मान्यता है कि रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान शिव के आंसुओं से हुई थी। इसलिए यदि आप इसे सावन के सोमवार को घर में लाते हैं और घर के मुखिया के कमरे में रखते हैं तो भगवान शिव ना केवल रुके हुए काम को पूरा करते हैं, बल्कि इससे आर्थिक लाभ भी होता है। और खूब तरक्‍की भी मिलती है।

गंगा जल

भगवान शंकर ने गंगा मां को अपनी जटा में स्थान दिया था। इसलिए यदि आप सावन के सोमवार को गंगाजल लाकर घर की किचन में रखते हैं तो घर में सम्पन्नता बढ़ेगी और तरक्की व सफलता मिलती है।

चांदी के नंदी

जिस प्रकार घर में चांदी की गाय रखने का महत्व है उसी प्रकार चांदी के नंदी घर में रखने का भी खास महत्व है। अपनी तिजारी या अलमारी में जहां आप पैसे या गहने रखते हैं, वहां चांदी के नंदी रखें। इससे आपको धन लाभ होगा और आपकी आर्थिक सम्पन्नता बढ़ेगी और इनकी सुरक्षा भी होगी।

डमरू

यह शिव का पवित्र वाद्य यंत्र है। इसकी पवित्र ध्वनि से आसपास से समस्त नकारात्मक शक्तियां दूर भागती है। आरोग्य के लिए भी डमरू की ध्वनि असरकारक मानी गई है। सावन मास के प्रथम दिन लाकर रखें और अंतिम दिन किसी बच्चे को यह डमरू उपहार में दें।

चांदी या तांबे का त्रिशूल

घर के हॉल में चांदी या तांबे का त्रिशूल स्थापित करके आप घर की सारी नेेगेटिव एनर्जी खत्म कर सकते हैं. इस बार सावन में इसे जरूर लाएं।

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

12 + 11 =

पाठको की राय