ग्वालियर
केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  आज एक दिवसीय प्रवास पर ग्वालियर पहुंचे। वे केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर की मां के निधन पर शोक व्यक्त करने आए थे। खाली समय का सदुपयोग करते हुए उन्होंने ग्वालियर फोर्ट पर स्थित ASI के मोन्युमेंट्स को देखा और IITTM भी गए। इअ दौरान उन्होंने पुरातत्व धरोहरों की हालत और पर्यटकों की स्थिति के लिए फटकार लगाई वहीँ बच्चों के साथ सेल्फी लेकर उनसे इंटरेक्शन भी किया।

केन्द्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल  आज सुबह ग्वालियर पहुंचे। वे सीधे केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के घर आर्य नगर मुरार पहुंचे जहाँ उन्होंने श्री तोमर की मां शारदा देवी के  चित्र पर पुष्प अर्पित किए और नरेन्द्र सिंह तोमर और उनके परिजनों को ढांढस बंधाया। यहाँ से वे सीधे ग्वालियर किले पर पहुंचे। मंत्री के आने की सूचना के चलते ASI यानि आर्कियोलौजिकल सर्वे ऑफ़ इण्डिया के अधिकारी और IITTM यानि भारतीय पर्यटन एवं यात्रा प्रबंध संस्थान संस्थान के अधिकारी उनके साथ थे। किले पर ASI के मोन्युमेंट्स की हालत देखकर और पर्यटकों की संख्या की जानकारी लेकर मंत्री नाराज हुए।उन्होंने ASI और IITTM के अधिकारियों को फटकारा और कहा कि पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के लिए हमें कार्यालयों से बाहर निकलना होगा,कुछ नया सोचना होगा।

मंत्री प्रह्लाद पटेल से जब मीडिया ने बात की तो उन्होंने कहा कि ग्वालियर और मुरैना के आसपास हमारी जो ऐतिहासिक, पुरातात्विक और आध्यात्मिक धरोहर हैं वो देश ही नहीं दुनिया के पर्यटकों के हिसाब से महत्वपूर्ण हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पहले पर्यटकों की कम संख्या के लिए कनेक्टिविटी नहीं होने को कारण बताया जाता था लेकिन आज ग्वालियर में  सभी तरह से कनेक्टिविटी है। उन्होंने कहा कि पर्यटन के लिए धन नहीं धारणा महत्वपूर्ण है। हमने  जो धारणा बनाई है उसे बदलना होगा। और ये केवल सरकार का कम नहीं है मीडिया को भी सहयोग करना होगा।

केन्द्रीय पर्यटन मंत्री प्रह्लाद पटेल गोविन्दपुरी स्थित भारतीय पर्यटन एवं यात्रा प्रबंध संस्थान भी गए। उन्होंने संस्थान का भ्रमण किया। उन्होंने सेमिनार हॉल में फेकल्टी मेंबर से संस्थान की जानकारी ली । उन्होंने कहा कि यहाँ व्यवस्थाएं बेहतर हैं लेकिन इसे और बेहतर करना होगा। उन्होंने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए AC चेंबर से बाहर निकलना होगा मंत्री ने संस्थान की लाइब्रेरी भी देखी उन्होंने वहां रखे जनरल्स,विश्व स्तर की पुस्तकें आदि देखकर प्रसन्नता जताई। मंत्री को जब ये बताया गया

गया कि यहाँ सौ फीसदी प्लेसमेंट है तो वे खुश हुए। इस मौके पर जब बच्चों ने उनके साथ सेल्फी लेनी चाही तो लगभग 6 फीट लम्बे प्रह्लाद पटेल ने बच्चों के हाथ से मोबाइल लेते हुए खुद सेल्फी ली। राजनैतिक सवालों और यहाँ के पूर्व डायरेक्टर को हाईकोर्ट के निर्देश पर हटाये जाने से जुड़े सवालों को वे टाल गए।