Monday, September 24th, 2018

गुजरातः समझौते के साथ खत्म हुआ BMW हिट ऐंड रन केस

अहमदाबाद 
गुजरात के अहमदाबाद में चर्चित बीएमडब्ल्यू हिट ऐंड रन केस में आरोपी विसमय शाह ने पीड़ित के पिता के साथ समझौता कर लिया है। इस मामले में उनके वकील ने हाई कोर्ट में एक शपथ पत्र दायर करके इसकी जानकारी दी है। हाई कोर्ट में आरोपी को पांच साल की सजा के खिलाफ दायर की गई अपील पर सुनवाई के दौरान यह शपथ पत्र दिया गया है। 

शिवम दवे (25) और राहुल पटेल (21) की मौत विसमय शाह की बीएमडब्ल्यू की टक्कर से हुई थी। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से पता चला था कि घटना के समय वह 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से अपनी बीएमडब्ल्यू कार चला रहे थे। 

कोर्ट ने सुनाई थी पांच साल की सजा 
इस मामले में कोर्ट ने विसमय शाह को पांच साल की सजा जुलाई 2015 में सुनाई थी। इतना ही नहीं, कोर्ट ने दोनों परिवारों को 5-5 लाख रुपये मुआवजा देने का आदेश भी दिया था। यह सजा उन्हें गैर-इरादतन हत्या के मामले में हुई थी। साथ ही अदालत ने विसमय को एक साल की सजा संपत्ति के नुकसान के लिए और लापरवाही से गाड़ी चलाने के लिए छह महीने की सजा दी थी। 

विसमय शाह को मोटर व्हीकल ऐक्ट तोड़ने का भी दोषी पाया गया था, लेकिन इस मामले में उन्हें कोई सजा नहीं सुनाई गई थी। विसमय शाह सजा मिलने के बाद 13 महीनों की सजा काट चुके हैं। उन्होंने जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट तक अपील की लेकिन उन्हें जमानत नहीं मिली थी। 

समझौते में कितने पैसे दिए, जिक्र नहीं 
कोर्ट में दिए गए शपथ पत्र में कहा गया है कि पीड़ित और आरोपी के बीच कोर्ट के बाहर समझौता हो गया है। हालांकि, इसमें इस बात का जिक्र नहीं है कि समझौते के लिए आरोपी की तरफ से पीड़ित परिवार को कितने रुपये दिए गए हैं। राहुल पटेल के पिता की तरफ से केस लड़ रहे वकील जीत भट्ट ने हाई कोर्ट में कहा कि पीड़ित परिवार जानते हैं कि उनके बेटे अब वापस नहीं आ सकते हैं। परिवार को क्षतिपूर्ति मिलना ही सबसे अच्छा तरीका था। 

Source : Agency

संबंधित ख़बरें

आपकी राय

8 + 12 =

पाठको की राय